Sports

कोलकाता: चेन्नई सुपरकिंग्स में महेंद्र सिंह धोनी के करीबी सुरेश रैना को अपने कप्तान की ‘कमी ही नहीं खलती’ बल्कि वह राइजिंग पुणे सुपरजांइट की कप्तानी से उन्हें हटाये जाने के तरीके से भी काफी निराश हैं। रैना ने कहा, ‘‘मैं निराश था। उन्होंने देश के लिये और आईपीएल टीमों के लिये इतना अच्छा काम किया है। उनका हर जगह सम्मान किया जाना चाहिए। यह मेरे कहने की बात नहीं है बल्कि पूरी दुनिया यही कहती है। ’’  

धोनी ने अभी तक 87 के स्ट्राइक रेट से पांच मैचों में महज 61 रन जुटाये हैं जिससे चारों आेर से उनकी आलोचना हो रही है। रैना ने कहा, ‘‘भारतीय टीम और चेन्नई सुपरकिंग्स में उनके साथ ड्रेसिंग रूम साझा करने के बाद आप जान जाते हो कि मुश्किल दौर में क्या होता है। उनका (धोनी) बतौर खिलाड़ी सम्मान किया जाना चाहिए। किसी भी पेशे में, भले ही यह खिलाड़ी का हो या पत्रकार का, आपका सम्मान किया जाना चाहिए। हर खिलाड़ी, चाहे उसका कैरियर कितना भी कम समय तक चला हो, सम्मान हासिल करना चाहता है। ’’  

यह पूछने पर कि क्या इससे धोनी प्रभावित हो रहे हैं तो उन्हांेने कहा, ‘‘मुझे नहीं लगता। उमीद करता हूं कि वह दो-तीन मैचों में बेहतर करेंगे। हमने अभी पांच ही मैच खेले हैं। कुछ समय बाद स्थिति स्पष्ट हो जायेगी। उन्हें बल्लेबाजी क्रम में उपर बल्लेबाजी करनी चाहिए और लंबे समय तक खेलना चाहिए। वह विश्व स्तर का ‘फिनिशर’ खिलाड़ी है। ’’ 

भाषा