Sports

ढाकाः लगातार तीन जीत से अपने ग्रुप में शीर्ष पर रहकर दसवें एशिया कप हाकी टूर्नामेंट के अगले दौर में पहुंचा भारत कल यहां सुपर चार के पहले मैच में दक्षिण कोरिया के खिलाफ अपना विजय अभियान जारी रखने के लिये कोई कोर कसर नहीं छोड़ेगा। भारत ने ग्रुप चरण में अपने सभी मैच जीते थे और अभी वह टूर्नामेंट में सभी विभागों में मजबूत टीम नजर आ रही है। दक्षिण कोरिया के खिलाफ भी वह जीत के दावेदार के रूप में शुरूआत करेगी।   

मारिन के आने के बाद भारत ने किया अच्छा प्रदर्शन
दूसरी तरफ कोरिया अभी तक प्रभाव छोडऩे में नाकाम रहा है और वह पूल बी में मलेशिया के बाद दूसरे नंबर पर रहा था। नये कोच मारिन शोर्ड के आने के बाद पहली बार किसी टूर्नामेंट में खेल रही भारतीय टीम ने महत्वपूर्ण अवसरों पर अच्छा प्रदर्शन किया और अब तक शानदार हाकी का नजारा पेश किया। रमनदीप सिंह, आकाशदीप सिंह, ललित उपाध्याय और चिंगलेनसाना सिंह की अग्रिम पंक्ति ने काफी प्रभाव छोड़ा है और उन्होंने कई मैदानी गोल दागे। भारतीय मध्यपंक्ति में भी करिश्माई सरदार सिंह और कप्तान मनप्रीत सिंह ने मिलकर नियंत्रित खेल दिखाया है। रक्षापंक्ति में भी अमित रोहिदास, हरमनप्रीत सिंह और युवा दिपसान टिर्की ने प्रभाव छोड़ा है। भारत के लिए चिंता का विषय पेनल्टी कार्नर को गोल में नहीं बदल पाना है हालांकि हरमनप्रीत ने कुछ अवसरों पर गोल किये। लेकिन भारत के अब तक के प्रदर्शन को देखते हुए लगता है कि वह कोरिया पर आसानी से जीत दर्ज कर लेगा। 

विश्व रैकिंग में भारच छठे नंबर पर
भारत ने जापान को 5-1 से हराने के बाद बांग्लादेश को 7-0 से रौंदा और फिर चिर प्रतिद्वंद्वी पाकिस्तान को 3-1 से पराजित किया। विश्व रैकिंग में भी भारत अभी छठे जबकि कोरिया 13वें स्थान पर है। अनुभवी गोलकीपर पी आर श्रीजेश की अनुपस्थिति में दो युवा गोलकीपरों सूरज करकेरा और आकाश चिकते ने जरूरी मौकों पर बेहतरीन खेल दिखाया। लेकिन इस सबके बावजूद भारतीयों को आत्ममुग्धता से बचना होगा विशेषकर कोरिया जैसी टीम के खिलाफ जिसे अपनी तेजी और जवाबी हमलों के लिये जाना जाता है। इस बीच सुपर चार के एक अन्य मैच में कल पाकिस्तान का सामना पूल बी से शीर्ष पर रहे मलेशिया से होगा।