Sports

नई दिल्ली: भारतीय बैडमिंटन के लिए रविवार का दिन किसी ‘सुपर संडे’ से कम नहीं रहा। भारत के बी साई प्रणीत ने हमवतन किदांबी श्रीकांत को हराकर जहां सिंगापुर ओपन सुपर सीरीज बैडमिंटन टूर्नामेंट का खिताब जीता वहीं इंडोनेशिया के जकार्ता में आयोजित इंटरनेशनल जूनियर ग्रां प्री में तीन युवा भारतीय बैडमिंटन खिलाड़यिों ने जीत हासिल कर खेल प्रेमियों को खुश होने के मौके दिए।  

रियो ओङ्क्षलपिक में रजत पदक विजेता पीवी सिंधू के कोच पुलेला गोपीचंद की बेटी गायत्री गोपीचंद ने फाइनल में हमवतन सामिया इमाद फारूखी को हराकर अंडर-15 महिला खिताब जीता। गायत्री ने बेहतरीन प्रदर्शन करते हुए 56 मिनट लंबे मुकाबले में समिया को 21-11, 18-21, 21-16 से शिकस्त दी। भारत की ही कविप्रिया सेल्वम ने कांस्य पदक जीता। 

गायत्री और समिया ने इंडोनेशिया की जोड़ी केली लरिसा और एस व्योला को सीधे गेमों में 21-17, 21-15 से हराकर अंडर-15 महिला युगल का खिताब जीता। यह मुकाबला महज 28 मिनट चला। युगल का कांस्य पदक भारत की कविप्रिया और मेघना रेड्डी ने जीता।