Sports

बार्सिलोना ,स्पेन ,(निकलेश जैन ) हिमांशु शर्मा के शानदार खेल के चलते बार्सिलोना ,स्पेन में कॅटलन सर्किट के दूसरे प्रतिष्ठित टूर्नामेंट में भी भारत का जलवा बरकरार रहा और लगातार दूसरे टूर्नामेंट का खिताब भारत के खाते में गया । मोंट काड़ा में श्याम सुंदर तो बारबेरा में हिमांशु शर्मा नें अपने शानदार खेल से समा बांध दिया और खिताब अपने नाम किया । भारत के बाहर यह उनकी पहली ख़िताबी जीत है वह पूरे समय जोरदार लय में नजर आए और बेहद आक्रामक खेले पर खिताब जीतने के लिए सिर्फ आपको आक्रामक ही नहीं रक्षात्मक खेल का भी प्रदर्शन करना होता है .। अंतिम राउंड मे एक समय वह काफी मुश्किल में घिर गए थे और उनके विरुद्ध खेल रहे तुर्किश फीडे मास्टर युर्त्सेवेन मेलिह में जीत  की ओर बढ़ रहे थे अंत में उनकी गलतियों और हिमांशु के वापसी कीकोशिशों ​के परिणाम स्वरूप मैच ड्रॉ रहा और हिमांशु नें ख़िताबी जीत दर्ज की ।

दुली बाला चन्द्र प्रसाद नें अंतिम राउंड में पूर्व विजेता अर्मेनिअन ग्रांड मास्टर केरेन ग्रिगोरेन के साथ मुक़ाबला ड्रॉ खेला और 6.5 /9 अंको के साथ छठवे स्थान पर रहे उन्होने मोंटकाड़ा की तरह इधर भी इंटरनेशनल मास्टर नोर्म हासिल किया ​। अर्मेनिअन ग्रांड मास्टर केरेन ग्रिगोरेन के 7 /9 अंक के साथ दूसरे स्थान पर रहे . इनयान पी इस बार 5.5/9 अंक के साथ 18वे स्थान पर रहे देवर्षि मुखर्जी 5.5/9 अंक के साथ 22वे स्थान पर रहे और इंटरनेशनल मास्टर अनूप देशमुख 5/9 और वन्तिका अग्रवाल 4.5/9 अपने रेटिंग ग्रुप के शीर्ष खिलाड़ी साबित हुए ।