Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : आईसीसी वर्ल्ड कप 2019 के लिए 15 सदस्यीय भारतीय टीम की घोषणा करने के बाद कई क्रिकेटरों ने भारत के युवा विकेटकीपर बल्लेबाज ऋषभ पंत को टीम में शामिल ना करने पर असमहति जताई है। अब भारतीय टीम के कप्तान विराट कोहली ने खुलासा करते हुए कहा कि दबाव की स्थिति में अनुभव और शांत रहकर खेलना होता है और इसी वजह से पंत की जगह दिनेश कार्तिक को प्राथमिकता दी गई है।

एक मीडिया संस्थान को इंटरव्यू देते हुए कोहली ने कहा, 'दबाव की स्थिति में दिनेश कार्तिक ने कंपोजर दिखाया है। यही वजह थी जिसके चलते सभी ने कार्तिक को टीम में शामिल रखने पर सहमति जताई। कार्तिक के पास अनुभव है, भगवान ना करे महेंद्र सिंह धोनी को अगर कुछ हो जाए तो कार्तिक विकेट के पीछे कारगर साबित हो सकते हैं। उन्होंने फिनिशर के तौर पर भी अच्छा काम किया है।' फिलहाल विश्व कप टीम में बदलाव करने के लिए इस टूर्नामेंट में हिस्सा लेने वाले देशों के पास 23 मई तक का समय है।

गौर हो कि कार्तिक ने साल 2004 में वनडे इंटरनेशनल क्रिकेट में डेब्यू किया था और अब तक वह भारत के लिए 91 मैच खेल चुके हैं। इस दौरान उन्होंने हर ऑर्डर पर अपनी बल्लेबाजी क्षमता का प्रदर्शन किया है। टीम इंडिया के हेड कोच रवि शास्त्री के मुताबिक, 'हम समझ सकते हैं कि टीम में हर जगह के लिए कई क्रिकेटर थे, कुछ लायक क्रिकेटरों को टीम में जगह नहीं मिली और मुझे उनके लिए खराब लग रहा है। इतने सारे टैलेंटेड क्रिकेटरों में 15 क्रिकेटरों की लिस्ट चुनना आसान नहीं था।'

.
.
.
.
.