Sports

इंदौर: भारतीय कप्तान विराट कोहली ने तीसरा टैस्ट 321 रन के बड़े अंतर से जीतने और न्यूजीलैंड के खिलाफ 3-0 से क्लीन स्वीप करने के बाद मंगलवार को कहा कि यह पूरी तरह टीम सीरीज जीत है।  विराट ने तीसरा टैस्ट चौथे दिन ही समाप्त हो जाने के बाद कहा कि यह पूरी तरह टीम सीरीज जीत है। इसमें किसी एक व्यक्ति का योगदान नहीं है बल्कि पूरी टीम का योगदान है। अश्विन ने हालांकि पूरी ही सीरीज में शानदार प्रदर्शन किया। जडेजा ने पहले मैच में बल्ले से भी योगदान दिया। साहा और रोहित ने दूसरे टैस्ट में महत्वपूर्ण पारियां खेली।

कप्तान ने अश्विन की तारीफ करते हुए कहा कि हम उनके नंबर पर पर हमेशा बात करते रहते हैं। हम हर सीरीज के बाद उनके मैन आफ द सीरीज पर चर्चा करते हैं। अब तो वह 7वीं बार मैन आफ द सीरीज बन गए हैं। मैं उन्हें अपनी शुभकामनाएं देता हूं।   

विराट ने साथ ही कहा कि हम इससे बेहतर की उम्मीद नहीं कर सकते थे। जब भी हमें जरुरत पड़ी गेंदबाजों ने हमारा काम किया। उन्होंने विकेट हासिल किए और विकेट लेने के तेवर भी दिखाए। हमने हर खिलाड़ी को खुलकर खेलने के लिए प्रेरित किया। यदि आप पुजारा को देखें तो वह तेज गेंदबाज को भी उसके सिर के ऊपर से मारने में हिचकिचाते नहीं है। यह इस टीम की खासियत है।  दूसरी तरफ न्यूजीलैंड के कप्तान केन विलियम्सन ने भारत को इस जीत का श्रेय देते हुए कहा कि मेजबान टीम ने उन्हें खेल के हर विभाग में पछाड़ दिया। उन्होंने कहा कि हम जानते थे कि यहां खेलना मुश्किल होगा। हम बेहतर क्रिकेट दिखाना चाहते थे। लेकिन भारतीय टीम ने हमें कोई मौका नहीं दिया।