Sports

मीरपुर: विश्व खिताब से अपना ट्वेंटी20 अंतर्राष्ट्रीय करियर समाप्त कर भावुक हुए श्रीलंकाई अनुभवी खिलाड़ी कुमार संगकारा ने कहा कि वह क्रिकेट खेल के प्रति काफी आभारी हैं। श्रीलंका ने बीती रात भारत को छह विकेट से पराजित कर आईसीसी विश्व टी20 खिताब अपने नाम किया जिससे संगकारा और उनके साथी महेला जयवर्धने के लिए यह बेहतरीन विदाई रही। खिताब जीतने बाद उनकी भावनाओं के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा कि वह काफी रोमांचित हैं।

संगकारा ने कहा, ‘‘यह अद्भुत है। मैं इसे बयां नहीं कर सकता। यह पहली बार है जब मैं उस टीम का हिस्सा हूं जिसने विश्व कप जीता। चार बार पहले हमें निराशा मिली है। यह बताना काफी मुश्किल है कि आप कैसा महसूस करते हो।’’ संगकारा ने नाबाद 52 रन बनाए और उन्हें अपने आखिरी मैच में मैन आफ द मैच चुना गया। उन्होंने कहा, ‘‘हर कोई इस तरह से अपने करियर का अंत करना चाहता है। इसके लिये लंबा इंतजार करना पड़ा।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मुझे बहुत खुशी है कि मैंने टीम की जीत में योगदान दिया। यह हमारे लिये काफी मायने रखती है। कोहली जिस तरह से खेल रहा था लग रहा था कि वह हमसे मैच छीन लेगा लेकिन हमारे गेंदबाजों ने बेहतरीन गेंदबाजी की।’’ संगकारा ने कहा, ‘‘आप महसूस कर सकते हो कि यहां तक पहुंचना कितना मुश्किल है, आपको कितने सहयोग की जरूरत होती, सिर्फ टीम के साथियों से ही नहीं बल्कि आपके परिवार से, आपके प्रशसंकों से और सहयोगी स्टाफ से भी।’’

इस पूर्व कप्तान ने कहा, ‘‘आप अकेले कुछ नहीं कर सकते। आप दुनिया में सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाज हो या फिर विश्व के सर्वश्रेष्ठ गेंदबाज, लेकिन आप सहयोग के बिना कुछ नहीं कर सकते।’’ संगकारा ने कहा, ‘‘ऐसे क्षण में आपको पीछे मुड़कर इन सभी के सहयोग का शुक्रिया अदा करना चाहिए क्योंकि इनके बिना आप यह सब नहीं कर पाते।’’