Sports

जूनागढ़: सचिन तेंदुलकर की गुजरात के गिर शेर अभयारण्य का हाल का दौरा विवादों से घिर गया है। चुनाव आयोग में आज इस संबंध में शिकायत दर्ज की गयी है जिसमें इस क्रिकेटर के साथ अभयारण्य का दौरा करने वाले वन विभाग के अधिकारियों पर आदर्श आचार संहिता के कथित उल्लंघन के लिये कार्रवाई करने की मांग की गयी है। जूनागढ़ के सूचना का अधिकार (आरटीआई) कार्यकर्ता संघ ने आज राज्य चुनाव आयोग के समक्ष शिकायत दर्ज करके 22 मार्च को तेंदुलकर के साथ गये अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई करने के लिये कहा है।

संघ ने अपनी शिकायत में कहा है, ‘‘वन विभाग के उन अधिकारियों के खिलाफ कार्रवाई की जानी चाहिए जो सचिन तेंदुलकर और उनके परिवार के गिर शेर अभयारण्य के दौरे के दौरान उनके साथ में थे। ऐसा करके उन्होंने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया है। ’’यह शिकायत वन विभाग के दो अधिकारियों आर एल मीणा और संदीप कुमार के खिलाफ दर्ज की गयी है। इसमें कहा गया है, ‘‘वह सरकारी वाहनों का कारवां लेकर वहां गये और उन्होंने अभयारण्य में अधिक समय बिताया।

इस तरह से उन्होंने आदर्श आचार संहिता का उल्लंघन किया। ’’जूनागढ़ जिले के कलेक्टर और पीठासीन अधिकारी आलोक कुमार पांडे ने पीटीआई से कहा, ‘‘हमें इस मामले में शिकायत मिली है। तेंदुलकर के साथ जाने वाले वन विभाग के अधिकारियों को चुनावों में ड्यूटी नहीं दी गयी थी। ’’तेंदुलकर, उनकी पत्नी अंजलि, पुत्री सारा और पुत्र अर्जुन तथा उनके कुछ पारिवारिक मित्र 22 मार्च को गिर शेर अभयारण्य गये थे।