Sports

मीरपुर: पांच बार की एशिया कप चैंपियन होने के बावजूद इस बार फाइनल तक के लिए क्वालिफाई नहीं कर सकी टीम इंडिया के कप्तान विराट कोहली ने माना है कि पाकिस्तान और श्रीलंका के खिलाफ मैच में हुई गलतियों के कारण उन्हें टूर्नामेंट से बाहर होना पड़ा है। अफगानिस्तान के खिलाफ बुधवार अपने आखिरी मैच में टीम इंडिया ने आठ विकेट से जीत दर्ज की। लेकिन टूर्नामेंट में क्वालिफाई करने के लिहाज से इस मैच का कोई महत्व नहीं था। मैच के बाद विराट ने कहा ‘हमने टूर्नामेंट की अच्छी शुरुआत की थी, लेकिन फिर पाकिस्तान और श्रीलंका जैसी टीमों के खिलाफ अहम मुकाबलों में हमने काफी गलतियां की जिसका हमें खामियाजा भुगतना पड़ा।’

कप्तान ने कहा ‘अमित मिश्रा ने पाकिस्तान के खिलाफ अच्छी गेंदबाजी की। मुझे खुशी है जिस तरह से टीम ने प्रदर्शन किया। हमने इन मैचों में कई कैच छोड़े और स्टम्प भी मिस किए, लेकिन फिर भी इन मैचों में हमारे कई खिलाडिय़ों ने अपने प्रदर्शन से प्रभावित किया।’

श्रीलंका और पाकिस्तान टूर्नामेंट में सर्वाधिक मैच जीतने के साथ ही एशिया कप के फाइनल में पहुंच गए जिसके साथ ही भारत मुकाबले से पूरी तरह बाहर हो गया। अफगानिस्तान के आखिरी मैच का उसकी हार या जीत पर कोई प्रभाव नहीं होना था लेकिन इस मैच में टीम ने जीत के साथ विदाई ली। विराट ने कहा ‘अफगानिस्तान के मैच को जीतकर भी कोई फर्क नहीं पडऩे वाला था। इसलिए ऐसे किसी मैच में अच्छा प्रदर्शन करने के लिए खुद को और टीम को प्रेरित करना हमारे लिए काफी मुश्किल था। हम तो उम्मीद कर रहे थे कि बांग्लादेश जीत दर्ज कर ले ताकि हमारी उम्मीदें कायम रह सकें लेकिन ऐसा नहीं हो सका।’