Sports

नई दिल्ली: भारतीय टीम से काफी समय से बाहर चल रहे दिल्ली के ओपनर गौतम गंभीर पर फिरोजशाह कोटला स्टेडियम के क्यूरेटर के साथ कथिततौर पर अभद्र भाषा में बात करने का आरोप लगा है। मीडिया रिपोर्ट के अनुसार दिल्ली टीम के कप्तान गंभीर ने क्यूरेटर से पिच को शुष्क रखने के लिए कहा था लेकिन क्यूरेटर ने ऐसा करने से इंकार कर दिया। इसके बाद गंभीर ने क्यूरेटर वेंकट सुंदरम के साथ अभद्र भाषा में बात की। हालांकि गंभीर ने इन आरोपों से इंकार किया है।

रिपोर्ट के अनुसार विजय हरारे ट्रॉफी के मैचों के लिए तैयारी में जुटे गंभीर पिच को शुष्क रखना चाहते थे और इसके लिए उन्होंने स्टाफ से भी बात की थी। खुद क्यूरेटर सुंदरम ने भी गंभीर पर अभद्र भाषा में बात करने का आरोप लगाया है। इस पूरे मामले की जानकारी दिल्ली जिला क्रिकेट संघ (डीडीसीए) को दे दी गई है। हमेशा से ही आक्रामक रूख के लिए पहचान रखने वाले गंभीर को पहले भी कई बार मैचों के दौरान सार्वजनिक तौर पर गुस्सा करते देखा गया है।

हालांकि इस बार उन्होंने इन आरोपों से इंकार किया है। गंभीर ने एक बयान में कहा ‘मुझे मीडिया से ही इस तरह के आरोपों को लेकर खबर मिली है। मैं सिर्फ यह कह सकता हूं कि मैंने अभद्र भाषा का इस्तेमाल नहीं किया है। मैंने उनसे सोमवार को स्टेडियम में मुलाकात की थी। लेकिन हमारे बीच कोई विवाद नहीं हुआ।’