Cricket

नई दिल्ली: उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित समिति के आईपीएल सट्टेबाजी और स्पॉट फिक्सिंग प्रकरण में गुरुनाथ मयप्पन को संलिप्त पाए जाने के बाद इंडियन प्रीमियर लीग के बर्खास्त आयुक्त ललित मोदी ने आज उनके ससुर और बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवासन पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की मांग की। मोदी ने बयान में कहा, ‘‘उच्चतम न्यायालय द्वारा गठित जस्टिस मुद्गल समिति के आईपीएल सट्टेबाजी और स्पाट फिक्सिंग प्रकरण में गुरुनाथ मयप्पन को संलिप्त पाए जाने के बाद मैं उनके एससुर और बीसीसीआई अध्यक्ष एन श्रीनिवासन पर आजीवन प्रतिबंध लगाने की मांग करता हूं।’’

उन्होंने कहा, ‘‘समय आ गया है कि क्रिकेट ढांचा जाग जाए और वैश्विक क्रिकेट को अपने कब्जे में लेने वाली पूरी इंडिया सीमेंट टीम को दफन कर दे। जैसा कि हमने देखा है कि इस तरह की भ्रष्ट और ताकत के लिए भूखी सत्ता से कुछ भी अच्छा नहीं आ सकता है।’’  पंजाब एवं हरियाणा उच्च न्यायालय के पूर्व मुख्य न्यायाधीश मुकुल मुदगल की अगुआई वाली तीन सदस्यीय समिति ने अपनी रिपोर्ट में कहा है कि चेन्नई सुपरकिंग्स के पूर्व टीम प्रिंसिपल मयप्पन के खिलाफ सट्टेबाजी की बात साबित होती है। इस समिति को उच्चतम न्यायालय ने आईपीएल स्पाट फिक्सिंग प्रकरण की जांच के लिए गठित किया था।

श्रीनिवासन ने मयप्पन का बचाव करते हुए उन्हें ‘क्रिकेट प्रेमी’ करार दिया था। मोदी ने उम्मीद जताई कि अब श्रीनिवासन के विश्व क्रिकेट में प्रशासक के तौर पर दिन गिने चुने होंगे। उन्होंने साथ ही चेन्नई सुपरकिंग्स को तुरंत आईपीएल से बर्खास्त करने की मांग की।