Sports

हैदराबाद: इंडिया ग्रां प्री गोल्ड में मिली खिताबी जीत से खोया आत्मविश्वास हासिल करने वाली भारतीय बैडमिंटन स्टार साइना नेहवाल ने आज कहा कि चोट के कारण पिछले साल मिली नाकामियों को वह भुला चुकी है। साइना ने 15 महीने के खिताबी सूखे को दूर करते हुए पी वी सिंधू को हराकर इंडिया ग्रां प्री जीता। वर्ष 2013 में अपने खराब प्रदर्शन के बारे में उसने कहा कि पिछले साल उसके साथ कुछ भी सही नहीं हुआ।

साइना ने कहा, ‘‘मैं निराश थी। इतने उच्च स्तर पर खेलने के बाद आप अच्छा प्रदर्शन नहीं कर सकें तो दुख तो होता ही है। कई कारण इसके लिए उत्तरदाई थे। मेरे अंगूठे में फ्रेक्चर हुआ था और मैंने सोचा नहीं था कि यह ऐसे समय पर होगा।’’ उसने कहा, ‘‘सुपर सीरिज फाइनल के बाद मुझे लगा कि मुझे अब ब्रेक ले लेना चाहिए क्योंकि यह साल काफी कठिन होगा। इस साल एशियाई खेल और राष्ट्रमंडल खेल हैं।’’

उसने कहा, ‘‘गोपी सर (राष्ट्रीय कोच पुलेला गोपीचंद) और मैंने तय किया कि कोरिया ओपन नहीं खेलना चाहिए और चार सप्ताह का ब्रेक लेना ठीक होगा ताकि मलेशिया और इंडिया ओपन में अच्छा प्रदर्शन कर सकूं। मुझे लगता है कि चार सप्ताह के ब्रेक से बहुत फायदा मिला।’’ साइना ने कहा कि आने वाले महीनों में उसका प्रदर्शन फिटनेस पर निर्भर होगा।