Cricket

नई दिल्ली: पूर्व कप्तान मोहम्मद अजहरूद्दीन का मानना है कि यदि शिखर धवन अपनी तकनीकी कमियों पर मेहनत नहीं करते हैं तो अगले साल विश्व कप के दौरान भारत की पारी के आगाज की परेशानियां बनी रहेंगी। अजहर ने कहा, ‘‘मैंने इंग्लैंड में चैम्पियंस ट्रॉफी के दौरान शार्ट गेंदों पर शिखर की परेशानी देखी। वहां उसने रन बनाये लिहाजा इस पर ध्यान नहीं गया लेकिन मुझे लग गया था कि इससे परेशानी होगी। शिखर के पास शार्ट गेंद को खेलने की तकनीक नहीं है। उसकी मूल तकनीक में ही खामी है।’’

उन्होंने कहा, ‘‘हमारी सलामी बल्लेबाजी चिंता का सबब है। दक्षिण अफ्रीका श्रृंखला के बाद से हमें अच्छी शुरुआत नहीं मिली है। विश्व कप में खुद को हालात के अनुकूल ढालना अहम होगा और भारत के लिये पारी की शुरुआत बड़ी समस्या रहेगी।’’ धवन की समस्या के बारे में पूछने पर उन्होंने कहा, ‘‘सबसे पहले तो वह उछलती गेंदों को छोड़ता नहीं है और दूसरे वह क्रीज के बाहर खड़ा होता है जिससे उसे इस तरह की गेंद पारी की शुरुआत में ही मिल जाती हैं।’’

अजहर ने कहा, ‘‘क्रीज के दायरे का आप जितना इस्तेमाल करेंगे, उतना ही गेंद को देर से खेलने में मदद मिलेगी।’’ उन्होंने यह भी कहा कि इस समय भारत के पास अधिक सलामी बल्लेबाज नहीं हैं। उन्होंने कहा, ‘‘यह भी एक समस्या है। वीरेंद्र सहवाग ने रन नहीं बनाए और गौतम गंभीर को भी शार्ट गेंदों से दिक्कत है। ऐसे में धोनी क्या करे। उसके सामने वास्तव में समस्या है।’’