Sports

नई दिल्ली: आईपीएल के पूर्व आयुक्त ललित मोदी के वकील महमूद अब्दी ने कहा कि हाल में दिवंगत होने वाली शशि थरूर की पत्नी सुनंदा पुष्कर के बयान के बाद तत्कालीन कोच्चि फ्रेंचाइजी से जुड़े विवाद पर उनके मुवक्किल का रूख सही साबित हुआ है। अब्दी ने कहा कि अब आईपीएल में कोच्चि फ्रेंचाइजी के मुद्दे पर जांच होनी चाहिए। अब्दी ने प्रेस विज्ञप्ति में कहा, ‘‘दिवंगत सुनंदा पुष्कर के मीडिया में आ रहे इन बयानों को देखते हुए कि वह ‘उस व्यक्ति’ के आईपीएल से जुड़े अपराधों का भी हिस्सा रही, स्पष्ट तौर पर इशारा करते हैं कि कोच्चि फ्रेंचाइजी के मामले में कुछ गलत था।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मीडिया रिपोर्ट से संकेत मिलते हैं कि कोच्चि फ्रेंचाइजी के गलत कामों में इस्तेमाल किए जाने से वह घुटन महसूस कर रही थी जिसे उन्होंने ‘आईपीएल अपराध’ करार दिया और वह नहीं चाहती थी कि ऐसा दोबारा हो।’’ अब्दी ने कहा कि कोच्चि मुद्दे पर सुनंदा के ट्वीट से जाहिर होता है कि वह संवेदनशील महिला थी जिन्हें आईपीएल अपराधों में मोहरे की तरह इस्तेमाल किया गया।