Sports

मेलबोर्न: ऑस्ट्रेलिया के हाथों एशेज सीरीज में 0-5 से करारी शिकस्त झेल चुका इंग्लैंड जब रविवार को वन डे सीरीज का पहला मुकाबला खेलने उतरेगा तो उसका एकमात्र लक्ष्य आलोचनाओं का जवाब देने के लिए विजयी शुरुआत करना होगा। इंग्लैंड के कप्तान एलेस्टेयर कुक के नेतृत्व में टीम को ऑस्ट्रेलियाई जमीन पर करारी शिकस्त झेलनी पड़ी है। ऐसे में टीम इस समय आलोचनाओं और कमजोर प्रदर्शन के कारण मनोवैज्ञानिक दबाव झेल रही है और ऑस्ट्रेलिया एक बार फिर से इसका फायदा उठाने के लिए कमर कस चुकी है।

भ्रमणकारी टीम ने टेस्ट सीरीज की हार से उभरने के लिए वन डे सीरीज के लिए टीम में व्यापक बदलाव किया है और अनुभवी केविन पीटरसन, मोंटी पनेसर को जहां वन डे सीरीज से बाहर कर दिया गया है वहीं उसके कई बेहतरीन और अनुभवी खिलाड़ी भी टीम का हिस्सा नहीं हैं जो उसके लिए एक बार फिर परेशानी का सबब बन सकता है। दूसरी ओर कप्तान माइकल क्लार्क ने ऑस्ट्रेलिया को एशेज कलश दिलाने के साथ ही खासी मजबूती प्रदान की है और बल्लेबाजी, गेंदबाजी तथा श्रेत्ररक्षण में उसका पिछला प्रदर्शन शानदार रहा है। यही कारण है कि वन डे के लिए भी टीम में व्यापक बदलाव नहीं किया गया है।