Cricket

मुंबई: मास्टर ब्लास्टर सचिन तेंदुलकर को अंतर्राष्ट्रीय क्रिकेट से सन्यास लिए अभी एक हफ्ता भी नहीं गुजरा है कि देश एक और ‘सचिन’ के उदय को देख रहा है। यह नया नन्हा बल्लेबाज़ फिर से मुंबई की ही जमीन पर तेजी से उभर रहा है। इस उभरते बल्लेबाज़ का नाम है पृथ्वी शॉ। जी हां, मुंबई के क्रिकेटर पृथ्वी शॉ ने हैरिस शील्ड ट्राफी में 546 रनों की पारी खेलकर नया रिकॉर्ड बना डाला है।

15 साल के पृथ्वी शॉ ने सभी रिकार्ड्स ध्वस्त करते हुए 546 रनों की जबरदस्त पारी खेली। बता दें कि हैरिस शील्ड ट्रॉफी में ही सचिन तेंदुलकर और विनोद कांबली ने रिकॉर्ड पारी खेली थी। सचिन और कांबली ने 1988 में हैरिस शील्ड ट्रॉफी में शारदाश्रम विद्या मंदिर के लिए 664 रनों की विश्व रिकॉर्ड साझेदारी की थी। सचन ने तब 300 से ज्यादा रनों की पारी खेली थी। यहीं से सचिन का नाम क्रिकेट जगत में मशहूर हो गया था।

15 साल के पृथ्वी ने स्प्रिंगडेल स्कूल की तरफ से खेलते हुए क्रिकेटर वसीम जाफर अरमान जाफर के सबसे बड़े स्कूल क्रिकेट स्कोर 498 रनों का रिकॉर्ड तोड़ते हुए नया रिकॉर्ड बना डाला। पृथ्वी की इस पारी के बाद अब मुंबई क्रिकेट जगत में चर्चा चल पड़ी है कि क्या भारत को नया सचिन तेंदुलकर मिल गया है।