Cricket

ब्रिसबेन: सचिन तेंदुलकर को अपने बचपन का ‘नायक’ करार करते हुए इंग्लैंड के बल्लेबाज इयान बेल ने कहा कि वह इस महान बल्लेबाज को पूजते हुए ही बड़े हुए हैं और हाल में सन्यास लेने वाले क्रिकेटर के साथ मैदान पर खेलना उनके लिए सम्मान था। बेल ने कहा, ‘‘उनके खेल का मानसिक रूप बहुत महत्वपूर्ण है। निश्चित रूप से जब मैं उनके खिलाफ खेला तो वह 15 वर्षों से शीर्ष स्तर पर खेल खेल रहे थे। मैं उन्हें पूजते हुए बड़ा हुआ और वह मेरे सच्चे ‘नायक’ थे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘मैं बहुत भाग्यशाली और सम्मानित महसूस करता हूं कि मैंने उनके साथ ही मैदान साझा किया और उनके खिलाफ खेला।’’ बेल ने कहा कि तेंदुलकर शायद दुनिया के एकमात्र बल्लेबाज थे जो मैदान का पूरा माहौल बदल सकते हैं। उन्होंने कहा, ‘‘सचिन के खिलाफ खेलना शानदार था। मैं सुनिश्चित नहीं हूं कि कोई और सचिन तेंदुलकर कभी होगा। आप जानते हो कि जब भी आप इंग्लैंड या भारत में उसके खिलाफ खेलते हो और जब आप बल्लेबाजी के लिए उतरते हो तो मैदान का पूरा माहौल बदल जाता है। दुनिया में ऐसे ज्यादा खिलाड़ी नहीं हैं जो ऐसा कर सकते हैं।’’

बेल गुरुवार से शुरु होने वाले पहले एशेज टेस्ट की तैयारियों में जुटे हैं। उन्होंने कहा कि हाल में सन्यास लेने वाले इस धुरंधर की काफी कमी खलेगी। उन्होंने कहा, ‘‘आप उन्हें खेलते हुए देखना चाहते हो, वह खेल का जीनियस है, जिसकी काफी कमी खलेगी। निश्चित रूप से उन्हें कोई नहीं भूलेगा लेकिन उनकी कमी खलेगी। ऐसे महान खिलाड़ी के खिलाफ खेलना शानदार था।’’