Cricket

राजकोट: भारतीय कप्तान महेंद्र सिंह धोनी ने ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ एकमात्र टी20 मैच में जीत के नायक युवराज सिंह की जमकर तारीफ करते हुए बायें हाथ के इस बल्लेबाज को पांचवें नंबर पर उतरने की चुनौती स्वीकार करने के लिये आभार व्यक्त किया। युवराज ने 35 गेंद पर नाबाद 77 रन बनाये जिससे भारत ने 202 रन का लक्ष्य हासिल करके छह विकेट से मैच जीता।

धोनी ने मैच के बाद कहा, ‘‘मुझे पता है कि युवी नंबर चार पर बल्लेबाजी करना पसंद करते हैं। लेकिन हमारी रणनीति युवी को पांचवें नंबर पर उतारना था। उसके बाद छठे नंबर पर मैं आया। युवी का शुक्रिया कि उसने नंबर पाच पर बल्लेबाजी करने की चुनौती स्वीकार की। उसने सर्वश्रेष्ठ अंदाज में लक्ष्य हासिल किया।’’

उन्होंने कहा, ‘‘युवी ने वास्तव में बहुत अच्छी बल्लेबाजी की। हमें बड़े लक्ष्य के सामने अच्छी शुरूआत की जरूरत थी लेकिन रोहित शर्मा का जल्दी आउट होना हमारे लिये बड़ा झटका था। ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाजों ने नयी गेंद से अच्छी गेंदबाजी की।’’ धोनी ने कहा, ‘‘लेकिन एक बार जब गेंद गीली हो गयी तो फिर हमने छोटे प्रारूप की सर्वश्रेष्ठ बल्लेबाजी देखी। मैंने युवी के साथ कुछ अच्छी साझेदारियां की थी लेकिन पिछले साल मुझे उसके साथ ज्यादा बल्लेबाजी करने का मौका नहीं मिला।’’

भारतीय गेंदबाजों ने जमकर रन लुटाये लेकिन धोनी ने उनकी तारीफ की। उन्होंने कहा, ‘‘वे प्रत्येक गेंद हिट करना चाहते थे लेकिन हमारे गेंदबाजों ने आखिर ओवरों में अच्छी गेंदबाजी करके वापसी की। यदि इस तरह की पारियों में एक या दो ओवर अच्छे चले जाते हैं तो उसका असर पड़ता है।’’