Sports

स्पोटर्स डेस्क (अतुल वर्मा): जल्द ही छत्तीसगढ़ के युवा क्रिकेट खिलाड़ियों की लॉटरी लग सकती है। नहीं, नहीं, सरकार या खेल विभाग ने उनके लिए कोई जैकपॉट स्कीम शुरू नहीं की है, लेकिन ये ख़बर किसी जैकपॉट से कम भी नहीं है। दरअसल देश को 2-2 वर्ल्ड कप और एक बार चैंपियंस ट्रॉफी का खिताब दिलाने वाले महेंद्र सिंह धोनी ने छत्तीसगढ़ में क्रिकेट की पाठशाला लगाकर युवा खिलाड़ियों को क्रिकेट की बारीकियां सिखाने की इच्छा जाहिर की है। ख़बरों की मानें तो 37 साल के धोनी ने इसके लिए छत्तीसगढ़ सरकार के खेल मंत्रालय को पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने छत्तीसगढ़ के युवा क्रिकेटर्स के गुर सिखाने का जिक्र किया है।

धोनी ने लिखा पत्र, जताई क्रिकेट एकेडमी खोलने की इच्छा

PunjabKesari

ख़बरों की मानें तो एमएस धोनी ने छत्तीसगढ़ सरकार के खेल मंत्रालय को एक पत्र लिखा है, जिसमें उन्होंने रायपुर में एक क्रिकेट एकेडमी खोलने की इच्छा जाहिर की है। सूत्रों के मुताबिक धोनी चाहते हैं कि वो वहां के युवा खिलाड़ियों को क्रिकेट की बारीकियों से रूबरू करवाएं। वहीं ख़बरें ये भी आ रही हैं खेल मंत्रालय को ये पत्र मिल चुका है और वो धोनी के इस कदम से काफी खुश हैं और उन्होंने उनके इस कदम को सराहा है। वहीं उनके इस पत्र पर अभी विभाग की मुहर लगना बाकी है।

इन दिनों परिवार के साथ वक्त बिता रहे हैं धोनी

टी-20 टीम से बाहर चल रहे एमएस धोनी इन दिनों अपने परिवार के साथ समय बिता रहे हैं। कुछ दिन पहले ही सोशल मीडिया पर उनकी एक वीडियो काफी पसंद की गई, जिसमें वो अपनी बेटी जीवा के साथ नजर आए हैं। टी-20 टीम में जगह ना दिए जाने पर धोनी के फैन्स काफी नाराज हुए थे और उन्होंने सेलेक्टर्स को सोशल मीडिया पर खरी-खरी भी सुनाई थी, लेकिन सेलेक्टर्स ने इसके पीछे खुद धोनी का फैसला और युवा खिलाड़ियों को मौका देने की दलील दी थी। धोनी ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ टेस्ट सीरीज के बाद शुरू होने वाली वनडे टीम का हिस्सा हैं और उनका पूरा फोकस 2019 में होने वाले वर्ल्ड कप पर है।

.
.
.
.
.