Sports

बेंगलुरू : लगता है कि रायल चैलेंजर्स बेंगलूर को इस बार आईपीएल में जितवाने के लिए कप्तान विराट कोहली कोई कसर छोडऩा नहीं चाहते हैं। तभी तो आरसीबी में शामिल नए बल्लेबाजों के लिए यो यो टेस्ट अनिवार्य कर दिया है। आईपीएल के लिए आरसीबी का पांच दिवसीय शिविर शुरू हो गया है। इसमें 8 खिलाड़ी पहुंच गए हैं। यह हैं बंगाल के 16 साल के प्रयास राय बर्मन, रणजी ट्राफी में सर्वाधिक रन बनाने वाले मिलिंद कुमार, उत्तर प्रदेश के कप्तान अक्षदीप नाथ, मुंबई के आलराउंडर शिवम दुबे, दिल्ली के बल्लेबाज हिम्मत सिंह और तेज गेंदबाज कुलवंत खेजरोलिया, तमिलनाडु के वाशिंगटन सुंदर और कर्नाटक के देवदत्त पड्डिकल।

Yo yo test necessary for Royal challenger bangalore team member

बताया जा रहा है कि सभी क्रिकेटरों का शिविर के दौरान कौशल परखा जाएगा। टीम के दो कोच गैरी कस्र्टन और आशीष नेहरा खिलाडिय़ों की प्रगति पर निगरानी रखेंगे। इन खिलाडिय़ों की फिटनेस का पता करने के लिए यो-यो टेस्ट किया जाएगा। बता दें कि विराट कोहली लंबे समय से इस टेस्ट का समर्थन करते आए हैं। हालांकि इस टेस्ट के कारण युवराज सिंह, सुरेश रैना और गंभीर जैसे खिलाड़ी भारतीय टीम में वापसी करने में नाकाम रहे लेकिन कोहली फिर भी इस टेस्ट को हर क्रिकेटर के लिए अनिवार्य मानते हैं।

भारत के फिट एथलीट्स में से एक हैं कोहली
Yo yo test necessary for Royal challenger bangalore team member

बीते साल जब यो यो टेस्ट की बात उठी थी तब विराट कोहली ही देश के सबसे फिट एथलीट्स में से एक माने गए थे। यो यो टेस्ट में उनका स्कोरिंग रेट 20 के आसपास था। हालांकि बीच में हॉकी प्लेयर सरदार सिंह ने 21 प्वाइंट लेकर उन्हें पीछा छोड़ा। लेकिन कोहली ने नियमित एक्सरसाइज कर अपना स्थान फिर से बरकरार कर लिया।

.
.
.
.
.