Sports

दुबईः अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट परिषद ने शुक्रवार को विश्व टी20 चैम्पियनशिप का नाम टी20 विश्व कप करते हूए दावा किया कि इससे टूर्नामेंट का दर्जा एकदिवसीय और टेस्ट प्रारूप की तरह होगा। आईसीसी बोर्ड ने पहले ही सदस्य देशों के बीच होने वाले टी20 मैचों को अंतरराष्ट्रीय मैच की मान्यता दे दी है। उन्होंने सभी 104 सदस्य देशों के लिए क्षेत्रीय क्वालीफिकेशन को लागू किया है। आईसीसी के कैलेंडर में 50 ओवर के टूर्नामेंट को विश्व कप कहा जाता है और अगले साल से विश्व टेस्ट चैम्पियनशिप की शुरूआत हो रही है।          

आईसीसी ने एक बयान में कहा, ‘‘ 2020 में ऑस्ट्रेलिया में होने वाले टी20 के अगले सत्र को आईसीसी महिला टी20 विश्व कप 2020 और आईसीसी पुरूष टी20 विश्व कप 2020 के नाम से जाना जाएगा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ इस टूर्नामेंट का नाम अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट कैलेंडर में टी20 विश्व कप के महत्व को बढ़ाने के उद्देश्य से किया गया है और यह सुनिश्चित करने की कोशिश है कि तीनों प्रारूपों में समानता बनी रहे।’’ दक्षिण अफ्रीका के कप्तान फाफ डु प्लेसिस के साथ भारतीय पुरूष और महिला टीमों के कप्तान विराट कोहली और हरमनप्रीत कौर ने इस पहल का स्वागत किया।         
kohli image 

कोहली ने कहा, ‘‘ टी20 क्रिकेट के सबसे बड़े टूर्नामेंट को अब विश्व कप कहा जाएगा जो की सही नाम है। भारत ने 2007 में पहला टी20 विश्व कप जीता था और ऑस्ट्रेलिया में 2020 में होने वाले विश्व कप में जीत दर्ज करना हमारे लिए शानदार होगा।’’ हरमनप्रीत ने कहा, ‘‘ मैं आश्वस्त हूं कि आने वाले वर्षों में इस टूर्नामेंट की लोकप्रियता में इजाफा होगा।’’ डु प्लेसिस ने कहा, ‘‘ हर खिलाड़ी सपना विश्व कप में खेलने का होता है और इस पहल से ज्यादा खिलाडिय़ों को ऐसा मौका मिलेगा।’’          

.
.
.
.
.