Sports

नई दिल्लीः महिला टी-20 विश्व कप के सेमीफाइनल में भारतीय महिला टीम जिस तरीके से इंग्लैंड के खिलाफ मैच में अपने निराशाजनक प्रर्दशन से टीम को हार का सामना करना पड़ा। टीम की सबसे बड़ी अनुभवी बल्लेबाज मिताली राज को टीम से बाहर रखने पर भारतीय कप्तान हरमनप्रीत कौर की काफी आलोचना भी हो रही है। क्रिकेट के विशेषज्ञों के बाद मिताली राज की मैनेजर अनीशा गुप्ता ने एक ट्वीट के जरिए हरमनप्रीत को आड़े हाथों लिया है और उन्हें अपरिपक्व, झूठी और चालाक बताया है। 

राजनीति में विश्वास करने लगी है हरमनप्रीत
sports news, cricket news hindi, ICC World Cup T20 Womens 2018, Team India, Lose, Semis, Harmanpreet singh, Mithali Raj, Manager Annisha 

मिताली की मैनेजर अनीशा ने अपने ट्वीट में लिखा है, 'दुर्भाग्यवश भारतीय टीम राजनीति में विश्वास करती है न कि खेल में. भारत और आयरलैंड मैच में मिताली राज का अनुभव कितना काम आ सकता था, यह देखने के बाद भी उसे हरमनप्रीत जो अपरिपक्व, झूठा और चालाक हैं, को खुश करने के लिए उन्होंने हरमनप्रीत को मन की करने दी।'
sports news, cricket news hindi, ICC World Cup T20 Womens 2018, Team India, Lose, Semis, Harmanpreet singh, Mithali Raj, Manager Annisha
अापको बता दें कि यह ट्वीट एक असत्यापित ट्विटर अकाउंट से आया था। एक वेबसाईट ने जब अनीशा से इस बारे में पूछा कि क्या यह उन्हीं का ट्वीट हो, तो मैनेजर ने हामी भरी और अपने बयान पर कायम रहीं। हालांकि उनका अकाउंट कुछ घंटे बाद डिलीट कर दिया गया है। मिताली की मैनेजर अनीशा से जब उनसे पूछा गया कि क्या उन्हें अपने ट्वीट पर कोई पछतावा है, तो उन्होंने कहा, 'हो सकता है कि मैं ज्यादा गुस्से में हूं, लेकिन यह बात सही जगह से आई है क्योंकि मैं गलत के साथ खड़ी नहीं रह सकती। जिस तरह का फेवरेटिज्म दिखाया जा रहा, वो साफ तौर पर दिखा रहा है।'
PunjabKesari

अच्छा प्रदर्शन करने के बाद भी टीम में क्या हो रहा है 
एक किक्रेट वेबसाइट ने अनीशा के हवाले से लिखा है, 'मैं नहीं जानती की अंदर क्या चल रहा है, लेकिन मैचों का प्रसारण हो रहा है, तो हम देख सकते हैं कि कौन प्रदर्शन कर रहा है और कौन नहीं। हम देख सकते हैं कि मिताली के साथ अच्छा प्रदर्शन करने के बाद भी क्या हो रहा है, इसके पीछ काफी गहराई है, जिसे देखने की काफी जरूरत है।' भारत को इंग्लैंड को खिलाफ मैच में हार का सामना करना पड़ा और उसका पहली बार महिला टी-20 विश्व कप जीतने का सपना टूट गया।

.
.
.
.
.