Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : वर्ल्ड कप मुकाबले में इंग्लैंड ने सेमीफाइनल में जाने की उम्मीदों को कायम रखते हुए भारत के खिलाफ 31 रन से जीत हासिल की। मैच जीतने के बाद इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने कहा कि हमारी शुरुआत उत्तम रही। टाॅस जीतना और पहले बल्लेबाजी का फैसला आसान नहीं होता लेकिन यह सही फेसला साबित हुआ। जेसन रॉय और जॉनी बेयरस्टो के बीच की सांझेदारी के कारण हमने चनौतीपूर्ण लक्ष्य दिया। 

PunjabKesari

मैच के बाद पत्रकारों से बातचीत करते हुए मोर्गन ने कहा कि हमने पहले के 10 से 20 ओवरों में 90-95 रन बनाए। इस कारण हमें बड़ा प्लेटफार्म मिला और भारत के दो मुख्य स्पिनरों को आड़े हाथों लिया। धीमी गेंदें बल्ले के साथ पकड़ बना रही थीं और हम ज्यादा परेशान नहीं थे। लेकिन हमारे बेंदबाज भी लाजवाब थे। लियाम प्लंकेट ने बेहतरीन गेंदबाजी की, खासकर मिडल के ओवरों में। पाकिस्तान और अफगानिस्तान के मैच की तरह ये भी इस टूर्नामेंट का आसान मैच नहीं था।

गौर हो कि इंग्लैंड ने टाॅस जीतकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 7 विकेट के नुकसान पर 337 रन बनाते हुए भारत को 338 रनों का लक्ष्य दिया। इसके जवाब में उतरी भारतीय टीम 5 विकेट गंवाकर 306 रन ही बना पाई और 31 रन से मैच हार गई।

.
.
.
.
.