Sports

नई दिल्ली: इंग्लैंड क्रिकेट टीम के वनडे कप्तान इयोन मोर्गन का मानना है कि अगर उनके बाहर जाने से अगले साल होने वाले वर्ल्डकप में इंग्लैंड की जीत की संभावनाएं प्रबल होती हैं तो वह अपने आप को टीम से बाहर करने को तैयार हैं। मोर्गन ने विश्व कप 2019 को पास देखते हुए ये बयान दिया है। उन्होंने कहा है कि अगर विश्व कप जीतने के लिए उन्हें खुद टीम से बाहर होना पड़े तो वो पीछे नहीं हटेंगे।
PunjabKesari
श्रीलंका के खिलाफ वनडे सीरीज की शुरुआत से पहले एक न्यूज चैनल से बातचीत में मोर्गन ने कहा कि ये एक साहसिक फैसला होगा। अगर मुझे लगता है कि टीम में बने रहने के लिए मेरा प्रदर्शन अच्छा नहीं है तो सबसे पहले मैं बाहर हो जाउंगा। अगर मुझे लगता है कि कप्तान और खिलाड़ी के तौर पर मैं अच्छा नहीं कर रहा हूं तो फिर मुझे ये कठिन फैसला लेने में कोई संकोच नहीं होगा।
PunjabKesari
मोर्गन ने कहा कि हम इस टीम के साथ काफी लंबा सफर तय कर चुके हैं और हमें विश्व कप का दावेदार बनने के लिए खुद को सर्वश्रेष्ठ स्थिति में रखने की जरूरत है। मोर्गन ने कहा कि इससे पहले भी मैंने युवाओं को मौका देने के लिए अपने आप को टीम से बाहर कर लिया था। जब आप एक कप्तान के तौर पर अपने आप को बाहर करते हो तो यह एक उदाहरण पेश करता है कि टीम में किसी की भी जगह पक्की नहीं है।
PunjabKesari
इंग्लैंड अभी तक 50 ओवर का वर्ल्ड कप जीतने में नाकामयाब रहा है। साल 2010 में उन्होंने टी20 विश्वकप जीता था जो उनकी सबसे बड़ी उपलब्धि है। हालांकि 2015 वर्ल्ड कप के बाद से इंग्लैंड की टीम में जबरदस्त बदलाव हुआ। देखते ही देखते इंग्लिश टीम काफी बढ़िया बन गई और इस समय वो 'आईसीसी' की वनडे रैंकिंग में शीर्ष पर हैं। 2019 का विश्व कप इंग्लैंड में खेला जाना है और इसी वजह से इंग्लैंड को इस बार वर्ल्ड कप जीतने का प्रबल दावेदार माना जा रहा है। 

.
.
.
.
.