Sports

शुजोऊ : भारतीय फुटबाल टीम के कप्तान सुनील छेत्री ने कहा कि चीन के खिलाफ 21 साल बाद होने वाले अंतरराष्ट्रीय अभ्यास मैच में रक्षात्मक होना सबसे अहम होगा। छेत्री ने कहा- हमें काफी बेहतरीन डिफैंस करना होगा। मुझे यह महसूस हो रहा है कि हमें काफी रक्षात्मक होना होगा। हम उन्हें काफी खाली जगह नहीं दे सकते। और जब भी हमें थोड़ा-सा भी मौका मिलेगा, हमें इसका फायदा उठाकर हमला बोलना होगा।

उन्होंने कहा- इस मैच में हमें हर विभाग में अपने खेल में शीर्ष पर रहना होगा। अगर हम अच्छा संयोजन नहीं कर पाए और एकजुट नहीं हो पाए तो वे हमें काफी जूझना पड़ेगा। छेत्री ने कहा कि भारत ने घरेलू मैदान के बाहर इतना बढिय़ा नहीं किया है लेकिन अब रिकार्ड को बेहतर करने का समय आ गया है। उन्होंने कहा- अब ऐसा करने का समय आ गया है। मैं उम्मीद कर रहा हूं कि खिलाड़ी इस मौके का फायदा उठाएंगे और अच्छा नतीजा हासिल करेंगे। हमें खुद को कहना होगा कि हम सुधार कर रहे हैं। जनवरी में हमारे सामने कड़ी चुनौती सामने होगी और हमें उसके लिए तैयार रहना होगा। 

छेत्री ने कहा- मैं खुश हूं कि हम चीन जैसी टीम के खिलाफ खेल रहे हैं। लेकिन यह थोड़ा अचरज भरा है कि हम इतने लंबे समय बाद उनसे खेल रहे हैं। हमें उनसे खेलते रहना चाहिए। इस मुकाबले के लिये काफी उत्साहित भी हूं कि उनकी टीम काफी मजबूत है और एशिया की सम्मानजनक टीम रही है।

.
.
.
.
.