Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: क्रिकेट ऐसा खेल है जिसके बारे में कहा जाता है कि इसमें कब क्या हो जाए कोई नहीं जानता। क्रिकेट के मैदान पर कई बार ऐसे कमाल के रिकॉर्ड बनते हैं जिनके बारे में एक समय सोचते हुए हंसी छूट जाती है। ऐसा ही वाक्या मध्य प्रदेश में एक क्लब स्तरीय मैच में देखने को मिला। टीम को आखिरी गेंद पर जीत के लिए छह रन चाहिए थे। न कोई चौका लगा न ही छक्का लेकिन फिर भी बैटिंग करने वाली टीम जीत गई। टीम आखिरकार कैसे जीत गई इसकी एक वीडियो आजकल सोशल मीडिया पर खूब वायरल हो रही है। 
PunjabKesari
आंध्र क्रिकेट क्लब के एक मैच में कुछ अलग देखने को मिला। क्रिकेट मुकाबले में देसाई और जुनी डॉम्बिवली की टीमें आपस में मैच खेल रही थी। मैच आखिरी ओवर में पहुंच गया। जहां बल्लेबाजी कर रही टीम को जीत के लिए छह रन की जरूरत थी लेकिन विरोधी टीम का गेंदबाज पूरी तरह दबाव में दिख रहा है। वो गेंदबाज आखिरी एक गेंद को पूरी करने के चक्कर में लगातार छह गेंदें वाइड फेंक गया। इससे बल्लेबाजी कर रही टीम देसाई को आसानी से जीत मिल गई।

बता दें कि इस मैच में पहले बल्लेबाजी करते हुए जुनी डॉम्बिवली की टीम ने 75 रन बनाए थे जिसके जवाब में उतरी देसाई टीम को एक गेंद पर 6 रनों की दरकार थी और गेंदबाज ने बिना बल्लेबाज से मेहनत कराए ही मुकाबला विपक्षी टीम को जिता दिया। इस मैच के बाद जहां एक तरफ देसाई टीम जश्न मना रही थी तो दूसरी तरफ जुनी के खिलाड़ी गेंदबाज पर जमकर बरसते दिखे।

.
.
.
.
.