Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: भारतीय क्रिकेट के सबसे बेहतरीन टेस्ट बल्लेबाजों में से एक वीवीएस लक्ष्मण आज 44 साल के हो गए है। आंध्र प्रदेश के हैदराबाद में 1 नवंबर, 1974 को जन्में लक्ष्मण ने अपने इंटरनेशनल करियर के दौरान कई शानदार पारियां खेली। लेकिन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ ईडन गार्डन्स की वह पारी 'कलाई के जादूगर' को 'वेरी वेरी स्पेशल' बना गई, जिन्होंने मार्च में 2001 में 281 रनों की शानदार पारी खेली थी ।
PunjabKesari
लक्ष्मण ने भारत के लिए 134 टेस्ट और 86 वनडे मैच खेले है। अपने करियर में लक्ष्मण ने 10 हजार से ज्यादा रन बनाए और 23 शतक लगाए। 16 साल के करियर के दौरान ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ लक्ष्मण का बल्ला हमेशा बोला। लक्ष्मण ने 11,125 इंटरनेशनल रन बनाए, जिनमें से 3,173 रन ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ रहे । लेकिन ये भी सच है कि वो क्रिकेट के वेरी-वेरी स्पेशल बल्लेबाज थे । एक समय ऐसा भी था जब दुनिया की सबसे खतरनाक टीम ऑस्ट्रेलिया सचिन से ज्यादा लक्ष्मण से खौफ खाती थी ।
PunjabKesari
उसी कंगारुओं के खिलाफ अभूतपूर्व 281 रनों की पारी ने उन्हें मशहूर बना दिया । उस पारी से पहले महज 28 का टेस्ट एवरेज रखने वाले लक्ष्मण ने दोहरे शतक की बदौलत ऑस्ट्रेलिया के 16 टेस्ट मैचों के विजय रथ को रोका था । राहुल द्रविड़ (180 रन) की लक्ष्मण के साथ फॉलोऑन पारी के दौरान 376 रनों की पार्टनरशिप यादगार रही थी ।
PunjabKesari
ईडन गार्डन्स लक्ष्मण का लकी मैदान था, उन्होंने इस मैदान पर 110.63 की औसत से 1217 रन बनाए, वो भारत के इकलौते बल्लेबाज हैं, जिन्होंने एक मैदान पर 100 से ज्यादा की औसत से 1000 से ज्यादा रन बनाए हैं । एक और बात बहुत कम लोग ही जानते हैं कि ये कलात्मक बल्लेबाज इंडिया के दूसरे राष्ट्रपति डॉ. सर्वपल्ली राधाकृष्णन के भतीजे हैं।