Sports

एडिलेडः कप्तान विराट कोहली ने कहा है कि भारत विदेश दौरों में अपनी धीमी शुरूआत के लिए आलोचना झेलता रहा है लेकिन मौजूदा आस्ट्रेलिया दौरे में वह इस स्थिति को पूरी तरह बदलना चाहते हैं। भारतीय कप्तान ने गुरूवार से शुरू हो रहे एडिलेड टेस्ट की पूर्व संध्या पर यहां संवाददाता सम्मेलन में कहा,‘‘ भारत की शुरूआत विदेशी दौरों में धीमी रही है और इंग्लैंड तथा दक्षिण अफ्रीका के हालिया दौरों में भी ऐसा ही रहा था। लेकिन हमारी कोशिश मौजूदा दौरे में आस्ट्रेलिया की परिस्थितियों के अनुकूल खुद को जल्द ढालकर यहां अच्छी शुरूआत करने की रहेगी।’’
virat kohli image

खेल में निरंतरता लानी होगी

उन्होंने कहा,‘‘ हम यहां हल्की फुल्की शुरूआत के बारे में नहीं सोच रहे हैं। हम सभी खिलाड़ी यहां सकारात्मक शुरूआत करना चाहते हैं और अपना खेल खुलकर दिखाना चाहते हैं। हम यहां अपना ए गेम खेलना चाहते हैं और वह भी पहले ही मैच और पहले ही दिन से जिससे आगे की सीरीज में भी हमें मदद मिलेगी।’’ विराट ने कहा कि टीम परिस्थितियों के अनुकूल खुद को ढालने का इंतजार नहीं कर सकती है। उन्होंने कहा,‘‘ हम इसमें समय नहीं गंवा सकते हैं कि यहां की पिच कैसी है हमें शुरूआत से इसे समझकर अपने खेल में बदलाव करने होंगे। हम ऐसा पिछले दो दौरों में नहीं कर सके हैं। लेकिन हम जब भी ऐसा करते हैं जीतते हैं। हमें सीरीज जीतने के लिए आगे इन बातों को ध्यान रखना होगा। हमें खेल में निरंतरता लानी होगी।’’
kohli image

दिखाना होगा अच्छा खेल

आॅस्ट्रेलियाई टीम इस बार स्टीवन स्मिथ और डेविड वार्नर की कमी से जूझ रही है जो निलंबित हैं और इससे भी भारत को आगामी सीरीज में फायदा मिल सकता है। हालांकि विराट ने इससे इंकार किया। उन्होंने कहा,‘‘ आस्ट्रेलिया जिन भी खिलाड़ियों के साथ खेलने उतरे वह कभी कमजोर नहीं है। हम उन्हें हल्के में नहीं ले सकते हैं चाहे उनके कितने ही अच्छे खिलाड़ी बाहर हों। हमें अपनी तरफ से अच्छा खेलना होगा।’’ सितंबर में पीठ में चोट के कारण बाहर चल रहे ऑलराउंडर हार्दिक पांड्या की अनुपस्थिति को हालांकि टीम के लिए बड़ा नुकसान बताया।
team india

उन्होंने कहा,‘‘हर टीम तेज गेंदबाजी ऑलराउंडर चाहती है और हार्दिक के चोटिल होने के कारण फिलहाल वह हमारे पास नहीं है। लेकिन उनकी अनुपस्थिति में बाकी खिलाड़ी स्थिति संभाल सकते हैं। हार्दिक का नहीं होना हमारे लिये नुकसान है लेकिन यह बड़ा मुद्दा नहीं है।’’ विराट ने आस्ट्रेलियाई ऑफ स्पिनर नाथन लियोन को भारतीय बल्लेबाजों के लिए बड़ा खतरा मानने से भी इंकार किया। कप्तान ने कहा,‘‘आखिरी बार हमने उनके खिलाफ खेला था और हमें उनके सामने सकारात्मक शुरूआत करनी होगी। वह इन परिस्थितियों में अच्छे गेंदबाज हैं। वह यहां की पिचें समझते हैं।’’ उन्होंने कहा,‘‘ हमें हमारा गेंदबाजी क्रम मजबूत रखना होगा। हम किसी एक खिलाड़ी को खतरा नहीं मान रहे हैं। लेकिन हम किसी को कम भी नहीं समझ रहे। हमें हमारा गेम अच्छे से खेलना है।’’




 

.
.
.
.
.