IPL 2019
Sports

जालन्धर : भले ही मोहाली वनडे में भारतीय टीम 358 रन के भारी भरकम लक्ष्य का बचाव नहीं कर सकी। लेकिन इससे भारतीय कप्तान विराट कोहली का जोश कम नहीं पड़ा है। उन्होंने मोहाली में हार के बाद कहा कि उनकी टीम ने जो गलतियां की उनकी प्राथमिकता है कि इन्हें दूर कर दिल्ली वनडे में जीत के साथ सीरीज खत्म की जाए। बता दें कि दिल्ली वनडे के दौरान विराट डर, खुशी और चुनौती का सामना करेंगे। जानें कैसे-

VIrat Kohli eyes on several records in Delhi ODI

डर इसलिए : मौजूदा सीरीज में विराट कोहली की ऑस्ट्रेलियाई गेंदबाज झाय रिचर्डसन के आगे कमजोर कड़ी सामने आई है। ऑस्ट्रेलिया के लिए महज 9 वनडे खेलने वाले 22 साल के रिचर्डसन चार बार विराट का विकेट झटका चुके हैं। दिल्ली के मैदान में अब जब कोहली रिचर्डसन के सामने होंगे तो कोशिश करेंगे कि वह उनकी रणनीति को भेद सकें।
वनडे में इनसे सबसे ज्यादा बार शिकार हुए हैं कोहली 
6 आर रामपॉल
5 टी परेरा / टिम साउथी
4 ग्रीम स्वान/एस रणदीव /झे रिचर्डसन

VIrat Kohli eyes on several records in Delhi ODI

खुशी इसलिए : विराट कोहली अगर दिल्ली वनडे में 67 रन ही बना गए तो वह भारतीय क्रिकेट की दीवार कहे जाते राहुल द्रविड़ को पीछे छोड़ देंगे। दरअसल वनडे क्रिकेट में द्रविड़ ने 318 वनडे में 10889 रन बनाए हैं। कोहली  के नाम अभी 218 मैचों में 10823 रनों का रिकॉर्ड है। 

VIrat Kohli eyes on several records in Delhi ODI

चुनौती इसलिए : दिल्ली वनडे विराट करियर के कप्तानी करियर का 65वां मैच होगा। अगर वह इसे जीतने में सफल हो गए तो वह अपने वनडे करिय के 50 मैच जीत जाएंगे। ऐसा कर वह कम मैचों में 50 वनडे जीतने के वैस्टइंडीज के दिग्गज क्रिकेटर और कप्तान क्लाइव लॉयड के बराबर पहुंच जाएंगे।

.
.
.
.
.