Sports

मुंबई (महाराष्ट्र) : रॉयल चैलेंजर्स बैंगलोर के स्टार बल्लेबाज विराट कोहली इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के इतिहास में लगातार 13 सत्रों में 300 से अधिक रन बनाने वाले पहले खिलाड़ी हैं। उन्होंने गुरुवार को मुंबई में गुजरात टाइटंस के खिलाफ चल रहे आईपीएल के 67वें मैच में यह कमाल किया। कोहली ने अपना फॉर्म हासिल किया और उन्होंने 54 में से 73 रन की पारी खेलकर गुजरात पर आठ विकेट से महत्वपूर्ण जीत हासिल की और अपनी प्लेऑफ की उम्मीदों को जीवित रखा। 

आईपीएल में साल दर साल कोहली का प्रदर्शन 

कोहली का 300 से अधिक रन का पहला सीजन 2010 सीजन था जिसमें उन्होंने 16 मैचों में 27.90 की औसत से 307 रन बनाए। वह उस सीज़न में केवल एक अर्धशतक लगा सके, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 58 था। 
2011 के सीजन में कोहली ने 16 मैचों में 46.41 की औसत से 557 रन बनाकर बेहतर प्रदर्शन किया। कोहली के बल्ले से चार अर्धशतक निकले, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 71 रहा। 
आईपीएल 2012 में उनके प्रदर्शन में थोड़ी गिरावट आई क्योंकि उन्होंने 16 मैचों में 28.00 की औसत से 364 रन बनाए जिसमें दो अर्द्धशतक सहित उच्चतम स्कोर 73* रहा। 
2013 का सीजन कोहली के लिए वास्तव में प्रभावशाली था क्योंकि उन्होंने 16 मैचों में 45.28 की शानदार औसत से 634 रन बनाए। कोहली ने 99 के सर्वश्रेष्ठ स्कोर के साथ छह अर्द्धशतक बनाए। वह माइकल हसी (733) और क्रिस गेल (708) के बाद तीसरे सबसे अधिक रन बनाने वाले खिलाड़ी बने।
2014 में कोहली ने 14 मैचों में 27.61 की औसत से 359 रन बनाए थे। कोहली ने उक्त सीजन में 2 अर्धशतक बनाए, जिसमें 73 उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा। 
आईपीएल 2015 में सीजन बल्लेबाज के लिए बेहद अच्छा था क्योंकि उन्होंने 16 मैचों में 45.90 की औसत से 505 रन बनाए। उन्होंने पूरे टूर्नामेंट में तीन अर्द्धशतक बनाए जिसमें 82* उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा। कोहली एबी डिविलियर्स (513), लेंडल सिमंस (540), अजिंक्य रहाणे (540) और डेविड वार्नर (562) के बाद सीजन में शीर्ष पांच रन बनाने वालों में शामिल रहे।


2016 में कोहली ने पूरे लीग में गेंदबाजी आक्रमण को तहस नहस करते हुए टीम को फाइनल तकर ले गए और 16 मैचों में 81.08 की औसत से 973 रन बनाए। उन्होंने टूर्नामेंट में 113 के सर्वश्रेष्ठ स्कोर के साथ चार शतक और सात अर्धशतक बनाए। कोहली ने उस सीजन में 'ऑरेंज कैप' भी सबसे ज्यादा रन बनाने वाले खिलाड़ी के रूप में हासिल की।
2017 की बात करें तो कोहली ने 2016 की तुलना में खराब प्रदर्शन किया और 10 मैचों में 30.80 की औसत से 308 रन बनाए। उनके बल्ले से चार अर्धशतक निकले जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 64 रहा।
कोहली 2018 में बल्लेबाज सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में सातवें स्थान पर रहे। उन्होंने 14 मैचों में 48.18 की औसत से 530 रन बनाए। उनके बल्ले से चार अर्द्धशतक निकले, जिसमें 92* उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर रहा।
कोहली ने 2019 में 33.14 की औसत से 464 रन बनाए। उनके बल्ले से एक शतक और दो अर्धशतक निकले, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 100 रहा।
2020 में उन्होंने 15 मैचों में 42.36 की औसत से 466 रन बनाए। उन्होंने टूर्नामेंट में तीन बेहतरीन अर्धशतक लगाए, जिसमें 90* उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर भी शामिल था। कोहली सर्वाधिक रन बनाने वालों की सूची में नौवें स्थान पर रहे।
इसके बाद 2021 में उन्होंने 15 मैचों में 28.92 की औसत से 405 रन बनाए। उनके सीजन में तीन अर्द्धशतक आए, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ 72* रहा।
कोहली के लिए आईपीएल का मौजूदा सीजन मिलाजुला रहा है। उन्होंने 14 मैचों में 23.77 की औसत से 309 रन बनाए हैं। उनके बल्ले से केवल दो अर्द्धशतक निकले हैं, जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 73 है। इस सीजन में वह बार तीन गोल्डन डक का शिकार हुए हैं।  

कुल मिलाकर 221 मैचों में उन्होंने 36.42 की औसत से कुल 6,592 रन बनाए हैं। उन्होंने कुल पांच शतक और 44 अर्धशतक बनाए हैं जिसमें उनका सर्वश्रेष्ठ स्कोर 113 है। उनकी टीम आरसीबी 16 अंकों के साथ चौथे स्थान पर है।  उनकी किस्मत मुंबई इंडियंस के हाथों में है जो 21 मई को दिल्ली कैपिटल्स से भिड़ेगी और तब तय होगा कि आरसीबी  प्लेऑफ के लिए क्वालीफाई करता है या नहीं। 

.
.
.
.
.