Sports

जालन्धर : भारतीय टीम इस समय ऑस्ट्रेलिया के महत्वपूर्ण दौरे पर है। टीम ने एडिलेड में खेला गया पहला टेस्ट जीतकर बता दिया है कि वह आगामी मैचों में भी सर्वश्रेष्ठ प्रदर्शन कर ऑस्ट्रेलिया में टेस्ट सीरीज जीत चुकी है। ऐसे में भारतीय कप्तान विराट कोहली भी यह उपलब्धि हासिल करने के लिए कोई कसर छोडऩा नहीं चाहते हैं। 14 दिसंबर से भारत और ऑस्ट्रेलिया के बीच पर्थ के मैदान पर दूसरा टेस्ट शुरू होना है। पर्थ की विकेट हमेशा से तेज गेंदबाजों के लिए अधिक मददगार रही है। ऐसे में कोहली ने अपने बल्लेबाजों को मैच से पहले कंफर्ट महसूस कराने के लिए एक प्रयास किया है जिसे इंगलैंड के पूर्व कप्तान माइकल वॉन ने भी सराहा है।

virat & anushka give up business class seat to his fast bowler
दरअसल विराट कोहली और उनकी पत्नी अनुष्का शर्मा जब टीम के साथ पर्थ टेस्ट खेलने के लिए प्लेन से रवाना होने वाले थे। तब उन्होंने देखा कि भारतीय तेज गेंदबाजों को जो सीटें मिली थीं उसमें उनके पांव कंफर्ट जोन में नहीं थे। यह देखकर विराट और अनुष्का दोनों ने अपनी बिजनेस क्लास सीट जिसमें पांव पसारने के लिए पर्याप्त जगह होती है, अपने गेंदबाजों को शिफ्ट करवा दी। कोहली की इस उदारता के गवाह बने हैं इंगलैंड के पूर्व क्रिकेटर माइकल वॉन। वॉन ने अपने ट्विट से उक्त घटना का जिक्र कुछ ऐसे किया है।
गवाह। एडिलेड से पर्थ की राह पर विराट कोहली और उनकी पत्नी ने अपनी बिजनेस क्लास सीट छोड़ दी है ताकि उनके साथी बेहतर कंफर्ट जोन महसूस करें। ऑस्टे्रलिया खतरे से सावधान। न केवल भारतीय तेज गेंदबाज अधिक आरामदायक स्थिति में है बल्कि कप्तान ने अपने मानवीय व्यवहार से खास छाप छोड़ी है। 

virat & anushka give up business class seat to his fast bowler

बता दें कि ऑस्ट्रेलिया दौरे पर भारतीय क्रिकेट टीम इतिहास रचने के मुहाने पर तो खड़ी ही है साथ ही साथ यह विराट कोहली के करियर के लिए महत्वपूर्ण सीरीज है। अगर वह ऑस्ट्रेलिया में 4-0 से सीरीज जीतने में सफल हो गए तो वह दो बड़े रिकॉर्ड एक नाम कर लेंगे। एक- ऑस्ट्रेलिया में सीरीज जीतना। दूसरा भारत के लिए टेस्ट क्रिकेट में सबसे सफल कप्तान बनना। बता दें कि टेस्ट क्रिकेट में अभी 27 जीत के साथ धोनी भारत के सबसे सफल कप्तान है। अगर कोहली यहां चारों मैच जीत जाते हैं तो उनकी जीत की संख्या 28 हो जाएगी।

बैन स्टोक्स ने भी किया कोहली के जज्बे को सलाम
virat-anushka-give-up-business-class-seat-to-his-fast-bowler

वहीं, इंगलैंड के तेज गेंदबाज बैन स्टोक्स ने भी कोहली के इस रवैये की सराहना की है। उन्होंने माइकल वॉन द्वारा उक्त घटनाक्रम बताते एक ट्विट पर रिप्लाई देते हुए लिखा कि हमारे साथ पूर्व कोच ट्रेवर बायलिस भी ऐसा कर चुके हैं। इसके बाद स्टोक्स ने एक अन्य ट्विट कर लिखा कि बतौर बॉलर होते मैं विराट कोहली की इज्जत करता हूं उन्होंने जो किया। मैं सिर्फ यही कहना चाहता हूं कि 2016 में हम जब भारत के टूर पर थे तब भी हमारे हैड कोच ने हमारे लिए यही काम किया था। 

.
.
.
.
.