Sports

नई दिल्लीः भारत के खिलाफ टेस्ट सीरीज शुरू करने से पहले आॅस्ट्रेलियाई क्रिकेट उस्मान ख्वाजा पर मुसीबत आ गई। खबर है कि आतंकी गतिविधियों में शामिल होने के कारण उनके भाई अर्शकान ख्वाजा को ऑस्ट्रेलिया में काउंटर टैरेरिज्म पुलिस ने गिरफ्तार किया है। 

अर्शकान पर आरोप लगा है कि उसने एक फर्जी सूची जारी की थी। जिसमें आतंकियों के निशाने पर होने वाले लोगों के नाम शामिल थे। इनमें ऑस्ट्रेलिया के पूर्व प्रधानमंत्री मैल्कन टर्नबुल का भी नाम था। पुलिस के मुताबिक, 39 साल के अर्शकान को सिडनी से पकड़ा गया। उससे पूछताछ की जा रही है। यह गिरफ्तारी अगस्त में न्यू साउथ वेल्स यूनिवर्सिटी ग्राउंड पर मिले दस्तावेज के आधार पर की गई। इसमें आतंकी साजिश और उनकी हिट लिस्ट शामिल थी।
usman khawaja brother image

जानकारी के मुताबिक उस्मान ख्वाजा के भाई को सुबरबन सिडनी में मंगलवार को गिरफ्तार किया गया है। 39 साल से अर्सकान ख्वाजा को गिरफ्तार करने के बाद लंबे समय तक सवाल किए गए। उनपर जाली दस्तावेज बनाकर न्याय प्रक्रिया में बाधा पहुंचाने को लेकर सवाल जवाब किए गए। पुलिस ने बयान में कहा, ”गिरफ्तार की वजह इसी साल अगस्त में यूनिवर्सिटी ऑफ (न्यू साउथ वेल्स) ग्राउंड्स में पाए उस दस्तावेज को बताया जा रहा है जिसमें आतंकवादी हमले का प्लान था।”
Arsalan Khawaja image

ऑस्ट्रेलिया के एक न्यूज पेपर के मुताबिक, अर्शकान यूनिवर्सिटी में मोहम्मद कामर निजामदेन का साथी है। निजामदेन पहले ही इस मामले में गिरफ्तार हो चुका है। हालांकि, बाद में हैंडराइटिंग के दस्तावेज से मिलान नहीं करने पर उसे छोड़ दिया गया था।
australia police image

.
.
.
.
.