Tennis

योकोहामाः नई यूएस ओपन चैंपियन बनी जापान की नाओमी ओसाका ने कहा है कि उन्हें इस ग्रैंड स्लेम टूर्नामेंट के फाइनल में सेरेना विलियम्स के विवाद पर कोई अफसोस नहीं है। ओसाका ने स्वदेश लौटने के बाद इस मुद्दे पर यह प्रतिक्रिया दी। ओसाका के खिलाफ फाइनल के दौरान सेरेना ने चेयर अंपायर से कई बार बहस की थी जिसके चलते यूएस ओपन के आयोजकों ने नियमों के उल्लंघन के लिए सेरेना पर एक गेम पेनल्टी और 17000 डॉलर का जुर्माना लगाया था।  

मैं नहीं जानती कि क्या महसूस किया जाए
PunjabKesari

20 साल की ओसाका ने अपनी आदर्श सेरेना को 6-2, 6-4 से हराकर यह खिताब जीता था और ग्रैंड स्लेम एकल खिताब जीतने वाली जापान की पहली खिलाड़ी बनी थी।  स्वदेश लौटने के बाद ओसाका से संवाददाता सम्मेलन में जब इस विवाद पर उनकी प्रतिकिया पूछी गई तो उन्होंने सेरेना की आलोचना करने से इनकार किया लेकिन साथ ही कहा, जहां तक मेरी बात है तो मुझे कोई अफसोस नहीं है क्योंकि ऐसे में मैं नहीं जानती कि क्या महसूस किया जाए।"  

सिर्फ इतना जानती हूं कि मैंने बहुत कुछ हासिल किया
विश्व रैंकिंग में 19वें से सातवें स्थान पर पहुंची ओसाका ने कहा, "मैं दुखी नहीं हूं क्योंकि मुझे इतना भी नहीं पता कि मुझे कैसा महसूस करना चाहिए था। यह मेरा पहला फाइनल था और मेरी पहली ग्रैंड स्लेम जीत थी, इसलिए मैं बहुत खुश हूं और मैं सिर्फ इतना जानती हूं कि मैंने बहुत कुछ हासिल किया है।"
PunjabKesari

फाइनल में 23 ग्रैंड स्लेम की विजेता सेरेना मैच के दौरान अंपायर पर बिफर पड़ीं थीं। सेरेना ने इस दौरान अंपायर पर लिंगभेद का आरोप लगाते हुए उन्हें चोर तक करार दिया था। यह जुर्माना राशि सेरेना की पुरस्कार राशि से काटी जाएगी। इस बीच ओसाका को अपने पहले ग्रैंड स्लेम खिताब के बाद दोहरी खुशी हासिल हो गई है। जापान के ऑटो निर्माता निसान ने ओसाका को अपना नया ब्रांड एंबेसेडर नियुक्त किया है।