Sports

ब्यूनस आयर्स: फुटबॉल वर्ल्ड कप अगले महीने से शुरू हो रहा है लेकिन इसी बीच अर्जेंटीना फुटबॉल एसोसिएशन ने विवादित मैनुअल जारी कर दिया है जोकि इस समय चर्चा का केंद्र बना हुआ है। दरअसल इस मैनुअल में एक चैप्टर है जिसमें बताया गया है कि रूसी लड़कियों को कैसे रिझाए या आकर्षित करें। यह मैनुअल उन जर्नलिस्ट को भी दिया गया है जो इस बार वल्र्ड कप कवर करने जा रहे हैं। इस विवादित मैनुअल को अर्जेंटीना फुटबॉल एसोसिएशन द्वारा लगाई गई एक वर्कशॉप में पत्रकारों से शेयर किया गया था।

अर्जेंटीना फुटबाल संघ ने फीफा विश्वकप के लिए ताम झाम के साथ संवाददाताओं के सामने अपना विश्वकप मैन्युअल जारी किया था जिसमें टूर्नामेंट के दौरान खिलाड़ियों को क्या करना है और क्या नहीं करना है, जैसे सुझाव दिए गए हैं। लेकिन इसमें जिस बात ने सबसे ज्यादा ध्यान बटोरा वह था कि रूस में विश्वकप के दौरान रूसी महिलाओं के साथ कैसे प्यार करना है और कैसे उन्हें रिझाना है। हालांकि इस मामले पर विवाद बढ़ता देखकर अर्जेंटीना फुटबाल संघ ने इस पर माफी मांग ली है। संघ के इस मैन्युअल को महिलाओं के अपमान से जोड़कर देखा जा रहा है।

अर्जेंटीना के सुझावों की सूची में रूस की भाषा और संस्कृति, ईमानदार रहिए, नकारात्मक न हो, महिलाओं को सामान न समझें, उन्हें प्यार से रिझाएं जैसी बातें शामिल थीं। एएफए के अध्यक्ष क्लॉडियो तापिया ने इस मामले पर माफी मांगते हुए जारी बयान में कहा हमने इस मामले पर आंतरिक जांच शुरू कर दी है। हमारे इस मैन्युअल में छपाई में गलती हुई है और यह किसी भी तरह से अर्जेंटीना के लोगों की सोच को नहीं दर्शाता है।

तापिया ने ब्युनस आयर्स में रशिया हाउस जाकर निजी तौर पर माफी मांगी है।  समाचार रिपोर्ट के अनुसार एएफए स्टाफ और मीडिया को गत सप्ताह ही विश्वकप का यह मैन्युअल पेश किया गया था। रूस में 14 जून से शुरू होने वाले विश्वकप के लिए करीब 40 हजार अर्जेंटीना प्रशंसकों ने मैच के टिकट खरीदे हैं।