Sports

नई दिल्ली : भारत के प्रतिष्ठित 350,000 डालर के योनेक्स सनराइका इंडिया ओपन बैडमिंटन टूर्नामेंट को शुरू होने से पहले ही शीर्ष वरीय चीनी खिलाड़यिों शी यूकी और चेन यूफेई तथा दो बार की पूर्व विजेता भारत की सायना नेहवाल के हटने से झटका लगा है। टूर्नामेंट के नौवें संस्करण की मंगलवार से इंदिरा गांधी अंतरराष्ट्रीय स्टेडियम के केडी जाधव इंडोर हॉल में शुरूआत होने जा रही है। 

ऑल इंग्लैंड चैंपियन चीन की चेन यूफेई को टूर्नामेंट में शीर्ष वरीयता मिली थी जबकि पुरूष वर्ग में गत विजेता चीन के शी यूकी को भी शीर्ष वरीयता दी गई थी। लेकिन दोनों ही चीनी खिलाड़ी चोटों के कारण टूर्नामेंट से हट गए हैं। इस टूर्नामेंट में 2010 और 2015 में खिताब जीतने वाली सायना ने भी पेट की गड़बड़ी के कारण टूर्नामेंट से अपना नाम वापिस ले लिया है। टॉप सीड चीनी खिलाड़यिों के हटने के बाद ओलंपिक और विश्व चैंपियनशिप की रजत विजेता पीवी सिंधू और डेनमार्क के विक्टर एक्सेलसन को इंडिया ओपन में क्रमश: महिला और पुरूष वर्ग में शीर्ष वरीयता दी गई है। 

भारतीय बैडमिंटन संघ के वरिष्ठ उपाध्यक्ष देवेन्दर सिंह ने सोमवार को यहां एक संवाददाता सम्मेलन में कहा कि 8 सफल वर्षाें के बाद इंडिया ओपन अपने नौवें वर्ष में भी शीर्ष टूर्नामेंट बना हुआ है जिसमें देश के साथ साथ दुनिया के शीर्ष खिलाड़ी हिस्सा ले रहे हैं। उन्होंने कहा, ‘दोनों टॉप सीड चीनी खिलाड़ी टूर्नामेंट से हट गए हैं इसके बावजूद इंडिया ओपन में चीनी खिलाड़यिों की सशक्त मौजूदगी रहेगी।’ 

चीनी दल का नेतृत्व 2012 के ओलंपिक चैंपियन ली जुईरूई के हाथों में रहेगा जबकि पुरूष वर्ग में 2016 रियो ओलंपिक के कांस्य पदक विजेता एक्सेलसन खिताब के प्रबल दावेदार रहेंगे। इनके अलावा पूर्व विश्व चैंपियन थाईलैंड की रत्चानोक इंतानोन भी आकर्षण का केंद्र रहेंगी। भारत के शीर्ष पुरूष खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत को तीसरी वरीयता मिली है और वह अपने दूसरे खिताब की तलाश में रहेंगे। श्रीकांत ने 2015 में पुरूष एकल खिताब जीता था। 

.
.
.
.
.