Sports

नई दिल्लीः एशिया कप से बाहर रहकर विश्राम कर रहे भारतीय कप्तान विराट कोहली को वेस्टइंडीज के खिलाफ घरेलू टेस्ट सीरीज से पहले अपनी फिटनेस साबित करने के लिये यो-यो टेस्ट से गुजरना पड़ सकता है। मीडिया रिपोर्टाें के अनुसार वेस्टइंडीज के खिलाफ सीरीज के लिए टीम की घोषणा से पहले भारतीय कप्तान को अपना फिटनेस टेस्ट देना पड़ सकता है। 

ज्ञातव्य है कि भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) के नए नियमानुसार किसी भी सीरीज से पूर्व टीम चयन के लिये पहले खिलाड़ियों को फिटनेस टेस्ट देना अनिवार्य है। विराट पिछले कुछ समय से फिटनेस समस्याओं से जूझ रहे हैं और इंग्लैंड दौरे में दूसरे लाड्र्स टेस्ट के दौरान भी उन्हें खेलने में असहज महसूस हुआ था। वह इंग्लैंड दौरे से पहले भी यो-यो टेस्ट देकर ही टीम में शामिल हुये थे। हालांकि टीम के कुछ खिलाड़ी टेस्ट में फेल होने के कारण बाहर हो गये थे।
PunjabKesari

लॉर्ड्स टेस्ट हारने के बाद विराट ने अपनी पीठ में दर्द की बात कही थी। बीसीसीआई के नियमानुसार किसी भी खिलाड़ी को टीम में चयन के लिए यो-यो टेस्ट में कम से कम 16.1 अंक लाना अनिवार्य होता है। विराट के अलावा ऑफ स्पिनर रविचंद्रन अश्विन, तेज गेंदबाज इशांत शर्मा का फिटनेस टेस्ट होना है जो 29 सितंबर को होगा। 
PunjabKesari

अश्विन को बगल में खिंचाव के कारण इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट से बाहर होना पड़ा था। भारत और वेस्टइंडीज के बीच राजकोट में चार अक्टूबर को टेस्ट सीरीज का पहला मैच होना है। दूसरा मैच 12 अक्टूबर को हैदराबाद में खेला जाएगा। इसके बाद दोनों टीमों के बीच पांच मैचों की वनडे और तीन मैचों की टी 20 सीरीज खेली जाएगी। 

.
.
.
.
.