Sports

कोलकाताः खराब फील्डिंग और लचर गेंदबाजी के कारण चेन्नई सुपर किंग्स को कल कोलकाता नाइट राइडर्स ने हरा दिया लेकिन कोच स्टीफन फ्लेमिंग ने टीम का बचव करते हुए कहा कि एक खराब मैच के बाद किसी बदलाव की जरूरत नहीं है। भारतीय क्रिकेट के सर्वश्रेष्ठ क्षेत्ररक्षकों में शुमार रविंद्र जडेजा ने के एम आसिफ की गेंद पर सुनील नारायण का कैच टपकाया जब वह छह के स्कोर पर थे। मैन आफ द मैच नारायण ने 32 रन बनाए और दो विकेट भी लिए।

फ्लेमिंग ने कहा, ‘‘हमारी गेंदबाजी की कमजोरी उजागर हुई। कुछ अच्छे फील्डरों ने गलतियां की जिसका खामियाजा भुगतना पड़ा।’’ उन्होंने कहा, ‘‘लंबे टूर्नामेंट में ऐसा हो जाता है। यह बेहतरीन प्रदर्शन नहीं था और हमारे पास इसमें सुधार के लिए ज्यादा समय भी नहीं है। यह हार तमाचे की तरह है और हमें अब अधिक मेहनत करनी होगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘एक खराब मैच के बाद बहुत ज्यादा बदलाव की जरूरत नहीं है। एक झटके में बदलाव करने की बजाय सावधानी बरतने की जरूरत है।’’      

फ्लेमिंग ने कहा कि 177 का स्कोर बुरा नहीं था लेकिन उनकी टीम मौके नहीं भुना सकी। उन्होंने कहा, ‘‘हम 178 से नाखुश नहीं थे। यह अच्छा लक्ष्य था लेकिन हम अच्छी शुरूआत नहीं कर सके। हम मौकों को भुना नहीं सके। हमें आखिरी चार पांच ओवर में कुछ रन और बनाने चाहिये थे।’’ 

.
.
.
.
.