Sports

इंदौरः मध्यप्रदेश के इंदौर में चार मई से आयोजित होने वाले इंडियन प्रीमियर लीग (आईपीएल) के सभी मैचों में पर्यावरण संरक्षण के लिए 3-आर सिद्धांत के तहत ग्रीन प्रोटोकॉल का पालन किया जाएगा।  यह जानकारी कलेक्टर निशांत वरवड़े ने यूएन इन्वयारमेंट, मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन और किंग्स एलेवन पंजाब के प्रतिनिधियों के साथ मिलकर दी। इंदौर पंजाब टीम का दूसरा घरेलू मैदान है। उन्होंने बताया कि इंदौर में गत 9, 10 और 11 अप्रैल को आयोजित 3-आर सिद्धांत के पालन के संबंध में हुए विश्व सम्मेलन में की गई घोषणा के तहत इंदौर में होने वाले आईपीएल मैचों में ग्रीन प्रोटोकॉल का पालन कराया जाएगा।  

मैचों के दौरान स्टेडियम में कचरे को रिसायकल, रिड्यूस और रियूज के सिद्धांत का पालन किया जाएगा। इसके लिए 72 बिन्दुओं का ग्रीन प्रोटोकॉल बनाया गया है। इस प्रोटोकॉल का जनसहयोग से मिलकर सभी लोग पालन करेंगे। इसके बाद शहर में होने वाले अन्य बड़े आयोजनों में भी इस प्रोटोकॉल का पालन कराया जाएगा।  ग्रीन प्रोटोकॉल पालन के लिए नगर निगम, जिला प्रशासन, प्रदूषण नियंत्रण बोर्ड, मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन, किंग्स एलेवन पंजाब, दर्शक आदि मिलकर समन्वित प्रयास करेंगे।  

इंदौर विश्व में एक नया आदर्श प्रस्तुत करेगा
यूएन इन्वयारमेंट के राष्ट्रीय प्रमुख अतुल बगई ने कहा कि इंदौर देश में स्वच्छता में अव्वल है। इसी परंपरा को आगे बढ़ाते हुए इंदौर ने कलेक्टर के मार्गदर्शन में एक और नई पहल की है। उन्होंने कहा कि ग्रीन प्रोटोकॉल लागू करवा कर इंदौर विश्व में एक नया आदर्श प्रस्तुत करेगा। इससे विश्व को पर्यावरण संरक्षण के लिए नया संदेश मिलेगा। लोगों में इस दिशा में चेतना जागृत होगी।  इंदौर में चार मई से होने वाले आईपीएल के मैच के दौरान किंग्स इलेवन पंजाब और अन्य टीमों के खिलाड़ी ‘ग्रीन इंदौर, क्लीन इंदौर’ का सन्देश देते नजर आएंगे। इस अवसर पर यूएन इन्वयारमेंट के राष्ट्रीय प्रमुख अतुल बगई, किंग्स एलेवन पंजाब,मध्यप्रदेश क्रिकेट एसोसिएशन, प्रदूषण नियंत्रण मंडल के प्रमुख उपस्थित प्रतिनिधियों ने एक स्वर में ग्रीन प्रोटोकॉल लागू किए जाने के लिए सहमति दी।
 

.
.
.
.
.