Sports

नई दिल्लीः सुप्रीम कोर्ट ने आज व्यवस्था दी कि महाराष्ट्र क्रिकेट संघ सहित किसी भी राज्य क्रिकेट संघ का चुनाव 11 मई तक नहीं होगा। मुख्य न्यायाधीश दीपक मिश्रा, न्यायमूर्ति ए एम खानविलकर और न्यायमूर्ति डी वाई चंद्रचूड़ की पीठ ने स्पष्ट कर दिया कि जब तक भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड (बीसीसीआई) की नियमावली और मसौदे को अंतिम मंजूरी नहीं मिल जाती, कोई भी राज्य संघ चुनाव नहीं करा सकता। महाराष्ट्र क्रिकेट संघ का चुनाव दो मई को होने वाला था।  

न्यायालय ने सभी राज्यों की क्रिकेट संघों और बीसीसीआई के पदाधिकारियों से बीसीसीआई के संविधान मसौदे पर सुझाव मांगे हैं। न्यायालय ने मामले के न्याय मित्र वरिष्ठ अधिवक्ता गोपाल सुब्रह्मण्यम के पास सुझाव भेजने की अंतिम तारीख 11 मई रखी है, जो इस मामले की अगली सुनवाई की भी तारीख है।  

पीठ ने कहा कि बीसीसीआई के संविधान के मसौदे को वह मंजूरी देगी, जिसे मानने के लिए बीसीसीआई बाध्य होगा। इतना ही नहीं 2016 के फैसले को वापस लेने की मांग संबंधी याचिकाओं पर उसका फैसला बोर्ड के संविधान मसौदे की प्रमाणिकता पर निर्भर होगा।