Sports

नई दिल्लीः इंग्लैंड के खिलाफ आखिरी टेस्ट मैच में हरफनमौला खिलाड़ी हार्दिक पांड्या की जगह हनुमा विहारी को भारतीय टीम में शामिल किया गया। विहारी के चयन पर पूर्व भारतीय कप्तान सुनील गावस्कर ने टीम प्रबंधन के फैसले की आलोचना की है। उन्होंने कहा कि इस सीरीज में 18 सदस्यीय भारतीय दल का हिस्सा होने के बावजूद भी करूण नायर को जगह क्यों नहीं दी गई।

रिपोर्ट के मुताबिक गावस्कर ने टाॅस के बाद कहा, ''करुण नायर ने ऐसा क्या नहीं किया है, जिसकी वजह से उन्हें जगह नहीं मिली? बस इतना ही समझ में आता है कि वह आपका पसंदीदा खिलाड़ी नहीं है। आप उसे चुनना नहीं चाहते हैं। वह तिहरा शतक बनाने वाला खिलाड़ी है। जयंत यादव के लिए आप उसे पुणे में बाहर बिठा देते हैं।'' आपको बता दें कि नायर ने इंग्लैंड के खिलाफ तिहरा शतक जड़ा था।

PunjabKesari

गावस्कर ने टीम प्रबंधन पर सवाल उठाते हुए कहा, ''टीम प्रबंधन उन्हें नहीं चाहता है और यही कारण है कि उन्हें इस मैच में खेलने का मौका नहीं दिया गया है। अब तक कितने भारतीय बल्लेबाजों ने तिहरे शतक लगाए हैं। वीरेंद्र सहवाग ने दो बार और नायर ने एक बार। आप उस खिलाड़ी को मौका नहीं देना चाहते हैं, जो सहवाग के बाद तिहरा शतक लगाने वाले एकमात्र बल्लेबाज हैं। मुझे कोई भी तर्क संतुष्ट नहीं करने वाला है।''

.
.
.
.
.