Sports

तिरुवनंतपुरम: विंडीज के कोच स्टुअर्ट लाॅ ने गुरुवार को यहां कहा कि एकदिवसीय श्रृंखला में भारत से मिली हार के बाद उनकी युवा टीम को मैदान में वो सब करने की जरूरत है जो उन्होंने यहां से सीखा है। उन्होंने मैच के बाद संवाददाता सम्मेलन में कहा, ‘इन खिलाडिय़ों के कौशल में कोई कमी नहीं है लेकिन यह मानसिकता और दबाव में फैसला लेने की क्षमता के बारे में है। जब आप मैदान में उतरते है तो लगभग 40,000 लोग मैदान में शोर मचा रहे होते हैं और आप दुनिया की सर्वश्रेष्ठ टीमों में से एक के खिलाफ खेल रहे होते हैं।’
PunjabKesari
उन्होंने कहा कि विंडीज के खिलाडिय़ों ने इस दौरे पर भारतीय खिलाडिय़ों से काफी कुछ सीखा है। उन्होंने कहा, ‘वे हर समय सीख रहे हैं। सीखने के मामले में भारत से बेहतर कोई टीम नहीं है, रोहित शर्मा और विराट कोहली से बेहतर कोई बल्लेबाज नहीं हैं।
PunjabKesari
उनकी गेंदबाजी भी कमाल की है। वापसी के बाद से बुमराह ने शानदार गेंदबाजी की है। उनके स्पिनरों ने अच्छा किया। रविन्द्र जडेजा कड़ी मेहनत करते हैं। कुलदीप यादव बल्लेबाजों के दिमाग में भ्रम पैदा करते हैं।’
PunjabKesari
ऑस्ट्रेलिया के इस पूर्व खिलाड़ी ने कहा, ‘यह सिर्फ कौशल के बारे में नहीं है। यह सही समय में सही विकल्प चुनने के बारे में है। अगर हम वैसा कर सके जैसा दूसरे और तीसरे एकदिवसीय में किया था तो हम अच्छा क्रिकेट खेल सकते है। यह उस परिस्थिति के अभ्यस्त होने के बारे में है। उन्होंने श्रृंखला में शानदार प्रदर्शन के लिए शाई होप और शिमरोन हेटमेयर के साथ युवा तेज गेंदबाज ओशाने थामस की तारीफ की।       

.
.
.
.
.