Sports

स्पोर्ट्स डेस्क : भारत के पूर्व तेज गेंदबाज और डीडीसीए सीनियर चयन समिति के अध्यक्ष अमित भंडारी पर अंडर 23 टीम के ट्रायल के दौरान सोमवार को अज्ञात व्यक्तियों ने हमला कर दिया था। इस पर प्रतिक्रिया देते हुए गौतम गंभीर ने कहा था कि ऐसे लोगों को क्रिकेट खेलने से लाइफ टाइम के लिए बैन कर देना चाहिए। अब वीरेंद्र सहवाग और शिखर धवन भी अमित भंडारी के समर्थन में खड़े हुए हैं और एक्शन लेने की बात कही है।

PunjabKesari

दोषी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की उम्मीद : सहवाग 

सहवाग ने ट्विटर अकाऊंड पर पोस्ट शेयर करते हुए लिखा 'एक खिलाड़ी को नहीं चुनने के लिए दिल्ली के चयनकर्ता अमित भंडारी पर हमला शर्मनाक है और मुझे उम्मीद है कि दोषी के खिलाफ कड़ी कार्रवाई की जाएगी और ऐसी घटनाओं से बचने के लिए पर्याप्त उपाय किए जाएंगे।'

विश्वास नहीं होता भाई के साथ ऐसा हुआ : धवन

धवन ने इस घटना को लेकर ट्विटर पर लिखा कि मुझे विश्वास नहीं होता कि अमित भंडारी भाई के साथ ऐसा हुआ है। यह दुखद और चौंका देने वाला है। इस मामले में शामिल लोगों को धवन ने डरपोक करार देते हुए लिखा कि इस पर तत्काल जांच की जरूरत है और दोषियों के खिलाफ सख्त कार्रवाई की जानी चाहिए।

PunjabKesari

गौर हो कि भंडारी पर हाॅकी और लोहे की राॅड से हमला किया गया था और उनके सिर और कान में चोटें आई है। उनके साथी सुखविंदर सिंह ने उन्हें सिविल लाइंस स्थित संत परमानंद अस्पताल में दाखिल करवाया था और उन्हें 7 टांके लगे हैं। दिल्ली और जिला क्रिकेट संघ के अध्यक्ष रजत शर्मा ने प्रेस ट्रस्ट से कहा कि दोषियों को छोड़ा नहीं जाएगा। उन्होंने कहा, ‘हम घटना का ब्यौरा ले रहे हैं। जहां तक मुझे पता चला है कि यह एक बाहर किए गए खिलाड़ी का काम है जिसे राष्ट्रीय अंडर 23 टूर्नामेंट के लिए संभावित खिलाडिय़ों में नहीं रखा गया।’ 

.
.
.
.
.