Sports

हमीरपुर : पूर्व भारतीय हॉकी कप्तान और मशहूर मिडफील्डर रहे सरदार सिंह का मानना है कि टीम इंडिया में जितने ज्यादा प्रयोग होंगे, उनका ही नुकसान भारतीय हॉकी को उठाना पड़ेगा। सरदार ने कहा कि हर दौरे पर आधे से ज्यादा टीम मेंबर बदल दिए जाते हैं। ऐसे में प्लेइंग-11 में खेलने वाले प्लेयरों का तालमेल नहीं बैठ पा रहा। हॉकी इंडिया के हिमाचल राज्य संघ के बुलावे पर हमीरपुर आए सरदार करीब 250 हॉकी खिलाडिय़ों को संबोधित करते हुए कहा कि बिना मेहनत किए कुछ भी हासिल नहीं किया जा सकता।

सरदार ने कहा कि खिलाड़ी को जीवन में कड़ी मेहनत से ही धन और शोहरत हासिल हो सकती है। प्रसिद्धी और सफलता पाने के लिए कड़ी मेहनत करनी पड़ती है और कड़ी मेहनत ही सफलता की चाभी है। पूर्व कप्तान ने इस दौरान 250 नवोदित खिलाडिय़ों को हॉकी स्टिक्स और गेंद बांटी और इसके साथ ही उन्होंने उम्मीद जताई की कि वे हिमाचल प्रदेश को हॉकी का गढ़ बनाने के लिए कड़ी मेहनत करेंगे। सरदार ने इस समारोह में बुलाने के लिए स्थानीय सांसद अनुराग ठाकुर को धन्यवाद दिया। आयोजकों ने उनका शॉल ओढ़ाकर अभिवादन किया।

.
.
.
.
.