Sports

ग्वांग्झू:  ओलंपिक रजत पदक विजेता पी वी सिंधू ने विश्व टूर फाइनल्स बैडमिंटन टूर्नामेंट के महिला एकल ग्रुप ए के पहले मैच में बुधवार को यहां विश्व में नंबर दो और मौजूदा चैंपियन अकाने यामागुची को सीधे गेम में पराजित करके अपने अभियान का शानदार आगाज किया। दुबई में पिछली बार उप विजेता रही सिंधू ने संयम और आक्रामकता का अच्छा नमूना पेश किया तथा जापानी खिलाड़ी को 24-22, 21-15 से हराया।
PunjabKesari
टूर्नामेंट में तीसरी बार भाग ले रही सिंधू ने कई अवसरों पर पिछडऩे के बावजूद हौसला बनाए रखा। पहला गेम 27 मिनट तक चला और इसमें दोनों शटलर ने एक दूसरे पर हावी होने में कोई कसर नहीं छोड़ी। पहले गेम में इंटरवल के समय सिंधू 6-11 से पीछे चल रही थी लेकिन इसके बाद उन्होंने जबर्दस्त वापसी की और अपनी प्रतिद्वंद्वी के बैकहैंड पर करारे स्मैश लगाकर स्कोर 19-19 से बराबर कर दिया। इसके बाद खिलाडिय़ों की मानसिकता की परीक्षा थी जिसमें भारतीय अव्वल रही और उन्होंने पहला गेम अपने नाम कर दिया।
sports news, Badminton news in hindi, PV Sindhu, Starting from victory, World Tour Finals
दूसरे गेम में यामागुची ने भारतीय खिलाड़ी के बैकहैंड को निशाने पर रखकर दबाव बनाने की कोशिश की लेकिन सिंधू इस चुनौती के लिये तैयार थी और उन्होंने जापानी खिलाड़ी को करारा जवाब देकर 3-1 से बढत हासिल कर ली।  यामागुची ने हालांकि दबाव बनाये रखा और इस बीच सिंधू ने भी एक गलती की जिससे जापानी खिलाड़ी 6-3 से बढ़त पर आ गयी। यामागुची ने इसके बाद बाहर शाट मारा और एक बार उनकी शटल नेट पर भी उलझी। इससे सिंधू को वापसी का मौका मिला और वह 8-7 से आगे हो गई। यामागुची ने हालांकि हार नहीं मानी और इंटरवल तक वह 11-10 से आगे हो गई।
sports news, Badminton news in hindi, PV Sindhu, Starting from victory, World Tour Finals
सिंधू ने ब्रेक के बाद जापानी खिलाड़ी की दो गलतियों का फायदा उठाकर 14-11 से बढ़त बनायी। वह यहीं पर नहीं रूकी और उन्होंने जल्द ही 18-11 से बढ़त बनाकर अपनी स्थित मजबूत कर ली। यामागुची ने जब शाट नेट पर मारा तो सिंधू को छह मैच प्वाइंट मिल गए। जापानी ने एक मैच प्वाइंट बचाया लेकिन वह फिर से नेट पर खेल गई और सिंधू ने मैच अपने नाम कर दिया। इस टूर्नामेंट में प्रत्येक ग्रुप से दो खिलाड़ी सेमीफाइनल के लिए क्वालीफाई करेंगी जिसके बाद नाकआउट का ड्राॅ होगा। सत्र के इस आखिरी टूर्नामेंट में चोटी के आठ खिलाड़ी भाग ले रहे हैं।       

.
.
.
.
.