Sports

स्पोटर्स डेस्क (अतुल वर्मा): कल से ओडिशा के कलिंगा स्टेडियम में पुरूष हॉकी वर्ल्ड कप का रोमांच शुरू होगा। इस वर्ल्ड कप के लिए भारतीय हॉकी टीम कमर कस चुकी है और कल साउथ अफ्रीका के साथ होने वाले अपने पहले मुकाबले में भारत अपना आगाज जीत के साथ करना चाहेगा। भारतीय टीम के मुख्य कोच के साथ-साथ पूर्व हॉकी दिग्गज खिलाड़ियों को भी उम्मीद है कि इस वर्ल्ड कप में भारत इतिहास जरूर रचेगा, लेकिन पिछले 3 बड़े टूर्नामेंट में भारतीय टीम की जीत में पेनल्टी शूटआउट बड़ा रोड़ा बनते हुए ‘कटप्पा’ साबित हुआ, लेकिन टीम इंडिया के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह को भरोसा है कि इस बार टीम पेनल्टी शूटआउट में कतई नहीं चूकेगी और इससे पार पा ही लेगी।

साल 2018 में पेनल्टी शूटआउट में चूक कर 3 खिताब गंवा चुका है भारत

Indian Hockey Team, Hockey World Cup

2018 में भारतीय हॉकी टीम के पेनल्टी शूटआउट रिकॉर्ड की बात करें तो भारत को 3 अहम टूर्नामेंट में खिताब से चूकते हुए हार का सामना करना पड़ा। इसी साल हैमिल्टन में हुए हॉकी टूर्नामेंट के फाइनल में बेल्जियम के खिलाफ भारत को शूटआउट में 0-3 से हार झेलनी पड़ी थी। वहीं चैंपियंस ट्रॉफी के फाइनल में भी ऑस्ट्रेलिया ने भारत को शूटआउट से 3-1 से हराया था। इतना ही नहीं एशियन गेम्स में भी भारत शूटआउट के फेर में फंसा था और शूटआउट में मलेशिया के खिलाफ 6-7 से हार गया था।

अब पेनल्टी शूटआउट से नहीं चूकेंगे खिलाड़ी, देंगे अपना 200 परसेंट- हरेंद्र सिंह

Indian Hockey Team, Hockey World Cup

जहां एक और भारतीय हॉकी फैन्स के साथ-साथ सभी के लिए पेनल्टी शूटआउट चिंता का विषय बना हुआ है, वहीं टीम के मुख्य कोच हरेंद्र सिंह ने ये भरोसा दिलवाया है कि टीम के खिलाड़ी इस बार शूटआउट से नहीं बिल्कुल चूकेंगे। उन्होंने कहा कि अगर टीम के मैच पेनल्टी शूटआउट में जाते हैं तो मुझे उम्मीद है कि इस बार टीम के खिलाड़ी शत-प्रतिशत से ज्यादा देंगे। उन्होंने बताया कि पिछले कुछ महीने से हम इसकी तैयारी और रणनीति पर भी पूरा ध्यान दे रहे हैं। वहीं इस साल 3 अहम खिताब गंवाने पर उन्होंने कहा कि हमने अपनी गलतियों से सबक लिया है और उन्हें ट्रेनिंग मैचों में अपनाते हुए सुधारा है और इसी सुधार के साथ टीम के खिलाड़ी कल वर्ल्ड कप के अपने पहले मैच में उतरेंगे।

मैदान हमारे लिए कोई बहाना नहीं, मिलेगा घरेलू फायदा- मुख्य कोच

Indian Hockey Team, Hockey World Cup

हॉकी वर्ल्ड कप को लेकर कलिंगा स्टेडियम में बिछाई गई नई ब्लू टर्फ को लेकर ख़बरें ये निकलकर आ रही हैं कि नई पिच बहुत तेज नहीं है। जिस पर कुछ देशों के कोच चिंता जता चुके हैं, लेकिन भारतीय हॉकी टीम के कोच हरेंद्र सिंह ने कहा कि मैदान हमारे लिए कोई बहाना नहीं है, बल्कि इस मैदान पर हमें घरेलू फायदा मिलेगा, चूंकि हमारे खिलाड़ी यहां पिछले काफी हफ्तों से अभ्यास कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि इसमें कोई दोराय नहीं कि भारतीय टीम को अन्य टीमों के मुकाबले इस मैदान और नई पिच पर ज्यादा वक्त बिताने का मौका मिला है, जिसका फायदा टीम को इस अहम टूर्नामेंट में मिल सकता है।

 

.
.
.
.
.