Sports

गोल्ड कोस्टः स्टार भारतीय बैडमिंटन खिलाड़ी पी वी सिंधु, साइना नेहवाल और विश्व में नए नंबर एक खिलाड़ी किदाम्बी श्रीकांत आज यहां राष्ट्रमंडल खेलों के अपने अपने एकल मैचों में आसान जीत के साथ क्वार्टर फाइनल में पहुंच गए। उनके अलावा भी बाकी सभी खिलाड़ी अपनी अपनी स्पर्धाओं में आगे बढऩे में सफल रहे। टखने की चोट से उबर रहीं सिंधू पहले गेम में थोड़ी मेहनत करने के बाद ऑस्ट्रेलियाई प्रतिद्वंद्वी सुआन यू वेंडी चेन को 34 मिनट तक चले मुकाबले में 21-15, 21-9 से हराने में सफल रहीं।

सिंधू- मैंने बस अपना खेल खेला और उसे पराजित किया
रियो ओलंपिक की रजत पदक विजेता खिलाड़ी मिश्रित टीम स्पर्धा में नहीं खेल पाई थीं जिसे भारत ने जीता था। सिंधू ने मैच के बाद कहा, ‘‘वह ( चेन ) जूनियर खिलाड़ी हैं , उस हिसाब से वह बहुत अच्छा खेल रही हैं। मैंने इसे हल्के में नहीं लिया क्योंकि किसी भी क्षण कुछ भी हो सकता है। मैंने बस अपना खेल खेला और उसे पराजित किया।’’ सिंधू ने पुरूष एवं महिला एकल वर्ग में भारतीय खिलाडिय़ों के बीच ही फाइनल खेले जाने की संभावना के बारे में पूछे जाने पर कहा, ‘‘मुझे निश्चित रूप से ऐसा लगता है। हम दोनों वर्गों के फाइनल में खुद को ही देखेंगे। यह निश्चित रूप से एक अच्छा मुकाबला होगा।’’

साइना- यह राष्ट्रमंडल खेल हैं और हम सब खेलना चाहते हैं
वहीं नेहवाल को आइल ऑफ मैन की अपनी प्रतिद्वंद्वी जेसिका ली को हराने में बिल्कुल भी पसीना नहीं बहाना पड़ा। पहला गेम 21-4 से हारने के बाद वह दूसरे में 2-0 से आगे चल रही थीं जबकि ली ने दाएं टखने में चोट लगने के कारण मुकाबले से हटने का फैसला किया। नेहवाल ने कहा, ‘‘आखिरी अंक सच में जटिल था क्योंकि मुझे नहीं पता था (कि ली को क्या हुआ था)। हां वह गिर गई लेकिन मुझे नहीं पता कि क्या चोट बुरी थी, टखने नाजुक होते हैं। यह निश्चित रूप से उनके लिए एक गंभीर चोट होगी। यह राष्ट्रमंडल खेल हैं और हम सब खेलना चाहते हैं। लेकिन मैच मैच होता है। उन्होंने अपना सर्वश्रेष्ठ देने की कोशिश की।’’

श्रीकांत ने निलुका को हराकर क्वार्टर फाइनल में बनाई जगह
युवा खिलाड़ी रूत्विका गाडे ने भी अंतिम 16 में सिंगापुर की जिया मिन यो को 21-10, 21-23, 21-10 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। पुरूष एकल में श्रीकांत ने अंतिम 16 में श्रीलंका के निलुका करूणारत्ने को महज 33 मिनट तक चले मैच में 21-10 21-10 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई। एच एस प्रणय ने भी ऑस्ट्रेलिया के एंथनी जो को 21-18, 21-11 से हराकर अंतिम आठ में प्रवेश किया। मिश्रित युगल में सात्विक रंकीरेड्डी एवं अश्विनी पोनप्पा की जोड़ी ने कनाडा ई जोड़ी क्रिस्टन साई-निल याकुरा को 21-10, 21-7 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया जबकि प्रणव चोपड़ा एवं एन सिक्की रेड्डी की जोड़ी ने भी सिंगापुर की जोड़ी डैनी बावा क्रिसनैंटा - जिया यिंग वोंग को 21-18, 21-13 से हराया।

इसके बाद पोनप्पा ने एन सिक्की रेड्डी के साथ महिला युगल में सिंगापुर की रेन ने ओंग एवं जिया यिंग वोंग की जोड़ी को 21-18, 21-13 से हराकर क्वार्टर फाइनल में प्रवेश किया। पुरूष युगल में सात्विक रंकीरेड्डी एवं चिराग शेट्टी की भारतीय जोड़ी ने मॉरिशस के आतिश लुबाह और क्रिस्टोफर ज्यां पॉल की जोड़ी को 21-8, 21-12 से हराकर क्वार्टर फाइनल में जगह बनाई।

.
.
.
.
.