Sports

स्पोर्ट्स डेस्क: विकेटकीपर महेंद्र सिंह धोनी ने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ नाबाद 56 रन बनाकर और तेज़ गेंदबाज़ मोहम्मद शमी ने 16 रन पर चार विकेट लेकर क्रिकेट लीजेंड सचिन तेंदुलकर को सिरे से गलत साबित कर दिया। भारत ने वेस्टइंडीज़ से यह महत्वपूर्ण मुकाबला 125 रन के बड़े अंतर से जीता और इस सेमीफाइनल के लिए अपनी दावेदारी पुख्ता कर ली। हालांकि कप्तान विराट कोहली अपनी 72 रन की पारी से मैन ऑफ द मैच बने लेकिन भारत की जीत में धोनी और शमी का भी महत्वपूर्ण योगदान रहा।   

PunjabKesari     
धोनी और शमी ने अपने प्रदर्शन से क्रिकेट लीजेंड और इस खेल के सबसे बड़े जानकार सचिन को गलत साबित किया। सचिन ने अफगानिस्तान के खिलाफ धोनी की 28 रन की धीमी पारी की कड़ी आलोचना करते हुए कहा था कि उन्होंने बल्लेबाजी करते समय सकारात्मक द्दष्टिकोण नहीं दिखाया जबकि कल के मैच से धोनी के प्रशंसकों ने सचिन के इस रवैये की सोशल मीडिया पर कड़ी आलोचना भी की थी।धोनी ने भारत के लिए निर्णायक अर्धशतकीय पारी खेलकर सचिन की आलोचना का भी जवाब दिया। भारतीय कप्तान विराट कोहली ने वेस्टइंडीज़ के खिलाफ मैच के बाद कहा है कि धोनी महान बल्लेबाज़ हैं और वह अपनी जिम्मेदारी को बखूबी समझते हैं इसलिए उन्हें समझाने की कोई जरूरत नहीं है।

PunjabKesari
सचिन ने सलाह दी थी कि भारत को विंडीज़ के खिलाफ भुवनेश्वर को शमी की जगह उतारना चाहिए क्योंकि वह अपनी स्विंग से विस्फोटक बल्लेबाज़ क्रिस गेल को आउट कर सकते हैं। हालांकि टीम प्रबंधन ने भुवनेश्वर को खेलाने का जोखिम नहीं उठाया और शमी को ही मुकाबले में उतारा। शमी ने शानदार गेंदबाजी करते हुए न केवल गेल को शुरूआत में निपटाया बल्कि मैच में 16 रन पर चार विकेट लेकर मास्टर ब्लास्टर को गलत साबित कर दिया। 

.
.
.
.
.