Sports

मुंबई : कोविड-19 महामारी के कारण लगे लॉकडाउन से प्रभावित विभिन्न खेलों के कोचों और सहयोगी स्टाफ के लिये धन जुटाने के तहत एक महीने तक चलने वाली ‘रन टू द मून’ में 15 देशों के 14,000 धावक हिस्सा लेंगे। इसके आयोजकों ने गुरूवार को यह जानकारी दी।

राष्ट्रीय बैडमिंटन कोच पुलेला गोपीचंद, अर्जुन पुरस्कार हासिल कर चुकी अश्विनी नाचप्पा और मलाथी होला के समर्थन वाली ‘रन टू द मून’ 21 जुलाई को चंद्रमा पर मनुष्य के पहले कदम रखने की 51वीं वर्षगांठ के साथ खत्म होगी।  दुनिया के विभिन्न हिस्सों में एक साथ होने वाली इस दौड़ में प्रतिभागियों का लक्ष्य मिलाकर 3,84,400 किलोमीटर की दूरी तय करना होगा जो पृथ्वी से चंद्रमा के बीच की दूरी है।

.
.
.
.
.