Sports

जालन्धर : विश्व कप में 5वां शतक लगाकर रिकॉर्ड बनाने वाली रोहित शर्मा को मैन ऑफ द मैच भी चुना गया। अवॉर्ड हासिल करने के बाद रोहित ने कहा- उनके मन में पांच शतक लगाने के बारे में कुछ भी चल नहीं रहा था। रोहित ने कहा कि जैसे कि मैंपहले बात कर रहा था कि मैंने वहां जाकर अपना काम ही करना था। मुझे पता था कि अगर मैं अच्छा खेला तो टीम के लिए काफी अच्छा जाएगा। मेरा काम होता है अपनी टीम को फिनिशिंग लाइन तक पहुंचाने का। इस दौरान आपकी शॉट सिलेक्शन महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है। 

रोहित ने कहा- बल्लेबाजी के लेकर मैं कोशिश करता हूं और गणना करता हूं कि मैं किस आधार पर आगे बढ़ सकता हूं। मैंने अपने अतीत से सीखा है कि बल्लेबाजी में कुछ अनुशासन होना चाहिए। जो पीछे हुआ वो गुजर गया। अब हर दिन क्रिकेट में नया दिन है। मैं सोचता हूं कि मैंने कोई एकदिवसीय मैच नहीं खेला है या कोई शतक नहीं बनाया है। वह एक खिलाड़ी के रूप में चुनौती है।

वहीं मलिंगा के बारे में बात करते हुए रोहित ने कहा कि श्रीलंका के लिए और फिर मुंबई इंडियंस के लिए एक चैंपियन गेंदबाज रहा है। उन्होंने वर्षों में यह दिखाया है कि कैसे टीम उन पर भरोसा करती है। मैंने उन्हें करीब से देखा है और क्रिकेट जगत उन्हें याद करेगा। एक टीम के रूप में हम उस बारे में नहीं सोच रहे हैं। हमें आज बड़ी जीत मिली है और हम उसे मनाना चाहते हैं।

.
.
.
.
.