Sports

नई दिल्ली: कावेरी जल विवाद और सुरक्षा चिंताओं के कारण चेन्नई सुपर किंग्स के आईपीएल 11 में सभी शेष घरेलू मैचों को चेन्नई से बाहर महाराष्ट्र क्रिकेट संघ(एमसीए) के पुणे स्टेडियम में कराने का फैसला किया गया है। इंडियन प्रीमियर लीग(आईपीएल) की ओर से जारी आधिकारिक बयान में इसकी पुष्टि की गई है। चेन्नई टीम को टी-20 लीग में अपने अभी छह और मैचों को घरेलू मैदान पर खेलना था। लेकिन सुरक्षा चिंताओं के कारण इसे चेन्नई के बजाए पुणे में कराया जाएगा।

आईपीएल की संचालन परिषद ने चेन्नई की मौजूदा परिस्थितियों की समीक्षा की है और इसके बाद चेन्नई सुपरकिंग्स के सभी शेष घरेलू मैचों को एमए चिदंबरम स्टेडियम के बजाए पुणे में कराने का निर्णय लिया है। मैचों को स्थानांतरित किये जाने के बाद अब दो बार की चैम्पियन टीम 20 अप्रैल को राजस्थान रायल्स, 28 अप्रैल को मुंबई इंडियन्स, 30 अप्रैल को दिल्ली डेयरडेविल्स, पांच मई को रॉयल चैलेंजर्स बेंगलुरू, 13 मई को सनराइजर्स हैदराबाद और 20 मई को किंग्स इलेवन पंजाब के खिलाफ पुणे स्टेडियम में अपने आगामी मैच खेलने उतरेगी।

काशी विश्वनाथन को मैच चेन्नई से बाहर करवाने की दी गई थी राय 
चेन्नई सुपर किंग्स के मुख्य कार्यकारी अधिकारी काशी विश्वनाथन ने चेन्नई के पुलिस आयुक्त से बुधवार को मुलाकात की थी और उन्हें सलाह दी गई थी कि कावेरी विवाद के कारण शहर में हो रहे प्रदर्शनों को देखते हुए चेन्नई से मैचों को बाहर ले जाना ही उचित होगा। वहीं मौजूदा स्थिति में तमिलनाडु क्रिकेट संघ ने चेन्नई के राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ 20 अप्रैल को होने वाले मैच की टिकट बिक्री रोक दी थी।  

स्टेडियम के आसपास हुअा था विरोध प्रदर्शन
चेन्नई ने 10 अप्रैल को कोलकाता नाईट राइडर्स की मेजबानी की थी जिससे दो साल के अंतराल के बाद शहर में आईपीएल मैचों की वापसी हुई। चेन्नई सुपर किंग्स पर भ्रष्टाचार के आरोपों के चलते दो साल का बैन लगा था। लेकिन मैच से पहले स्थिति शांतिपूर्ण नहीं थी और राजनितिक दलों ने कावेरी नदी जल विवाद को लेकर एमए चिदंबरम स्टेडियम के आसपास विरोध प्रदर्शन किया था।

.
.
.
.
.